अखिलेश ने 10 हजार लोगों को दिए घर, 2 हजार लोगों को बांटे ई-रिक्शे

अखिलेश ने 10 हजार लोगों को दिए घर, 2 हजार लोगों को बांटे ई-रिक्शेगरीबों को रिक्शे देने के दौरान एक ई-रिक्शे पर सवार मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कैबिनेट मंत्री आजम खान। फोटो- साभार यूपी.ओआरजी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव प्रदेश के शहरी गरीब पात्र लाभार्थियों को आसरा योजना के अन्तर्गत बनाए गए निःशुल्क आवासों के आवंटन-पत्र वितरित किये।

इसी कार्यक्रम में मुख्यमंत्री 31 शहरों के चुने गए रिक्शा चालकों को मुफ्त ई-रिक्शा आवंटन-पत्र भी बांटे। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा ‘आसरा योजना’ के अन्तर्गत 10,067 शहरी गरीब लाभार्थियों को निःशुल्क आवास आवंटन-पत्र बांटे गए, जबकि मुफ्त ई-रिक्शा आवंटन के तहत 2,000 रिक्शा चालकों को लाभान्वित किया गया। कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ''गरीबो को ऐसा घर दिया, जो जीवन में कभी नहीं बना पाते।''

राज्य सरकार द्वारा शहरी गरीबों के लिए अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों तथा नगरीय मलिन बस्तियों में ‘आसरा योजना’ के माध्यम से निःशुल्क आवास प्रदान करने की शुरुआत वर्ष 2012-13 में हुई थी। इस योजना के तहत नगरीय गरीब बस्तियों में कम लागत के रिहायशी मकान चयनित पात्र लाभार्थियों को उपलब्ध कराकर शहरी गरीबों को आवासीय सुविधा की तंगी के समाधान के साथ ही उनके जीवन स्तर में बदलाव और सामाजिक परिवेश में सुधार का बीड़ा उठाया गया। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इसके तहत अब तक कुल 33,941 आवास स्वीकृत किये गये हैं।

समारोह को संबोधित करते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

इसी प्रकार, राज्य सरकार ने मानव चालित रिक्शा चालकों को हाड़तोड़ मेहनत से राहत दिलाने के लिए मोटर/बैटरी चालित ई-रिक्शा निःशुल्क वितरित करने का निर्णय लिया था। इस योजना के अन्तर्गत अब तक 32 शहरों में 6,000 पात्र मानव चालित रिक्शा चालकों को निःशुल्क ई-रिक्शा वितरित किये जा चुके हैं। आज आयोजित होने वाले कार्यक्रम में 31 शहरों के 2,000 लाभार्थियों को ई-रिक्शे वितरित किये गए।

Share it
Share it
Share it
Top