काटजू ने मनसे कार्यकर्ताओं को ललकारा, अगर दम है तो मेरे पास आओ, मैं इलाहाबादी गुंडा हूं  

काटजू ने मनसे कार्यकर्ताओं को ललकारा, अगर दम है तो मेरे पास आओ, मैं इलाहाबादी गुंडा हूं  सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मार्केंडय काटजू।

मुंबई (आईएएनएस)| भारत में पाकिस्तानी कलाकारों के काम करने को लेकर चल रहे विवाद में अब सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मार्केंडय काटजू ने भी विवादित बयानबाजी की है। काट्जू ने को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) पर तीखा प्रहार करते हुए कई ट्वीट किए।

गौरतलब है कि मनसे मशहूर निर्देशक करण जौहर की फिल्म 'ये दिल क्या करे' की रिलीज का विरोध कर रहे हैं, क्योंकि इसमें पाकिस्तान के अभिनेता फवाद आलम ने काम किया है।

काट्जू ने ट्वीट किया, "मनसे असहाय लोगों पर हमले क्यों कर रही है? अगर आप में साहस है तो मेरे पास आइए। मेरा डंडा तुम्हारा इंतजार कर रहा है और तुम्हारी खबर लेने के लिए अधीर है।"

काट्जू ने अगले ट्वीट में लिखा, "मनसे के कार्यकर्ता गुंडे हैं जिन्होंने अरब सागर का खारा पानी ही चखा है। मैं इलाहाबादी गुंडा हूं जिसने संगम का पानी पिया है।"

उल्लेखनीय है कि काट्जू प्रेस परिषद के अध्यक्ष रह चुके हैं और विभिन्न मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने के लिए विख्यात हैं।





Share it
Share it
Share it
Top