एक पाकिस्तानी ने भारतीय प्रेमिका से निकाह तो कर लिया पर अब वो कब मिल पाएंगे, खुदा जाने 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   1 March 2017 10:16 PM GMT

एक पाकिस्तानी ने भारतीय प्रेमिका से निकाह तो कर लिया पर अब वो कब मिल पाएंगे, खुदा जाने प्रतीकात्मक फोटो।

अटारी (पंजाब) (भाषा)। उसे भारत की एक लड़की से प्यार हो गया और वह उससे शादी करने के लिए यहां चला आया। दोनों ने शादी की और उनका एक बच्चा भी हुआ तो लगा जैसे उनके सारे सपने पूरे हो गए, लेकिन कहानी का दुखद अंत यह है कि युवक को अब उसके देश पाकिस्तान वापस भेजा जा रहा है। अकबर दुरानी (31 वर्ष) की कहानी किसी फिल्म की कहानी जैसी है, यह पांच वर्ष की एक दुखभरी कहानी है।

पाकिस्तान के हैदराबाद स्थित ओखरी निवासी अकबर दुरानी को वीजा नियमों का उल्लंघन करते हुए निर्धारित अवधि से अधिक समय तक भारत में रहने के लिए स्वदेश भेजने के वास्ते मध्य प्रदेश से यहां लाया गया है। दुरानी ने अपनी दुखभरी कहानी सुनाते हुए बताया कि वह 2011 में मध्य प्रदेश के देवास की रहने वाली सोफिया से फेसबुक और स्काइप के जरिए सम्पर्क में आया था। उसने कहा, ‘‘सोफिया के प्रति आकर्षण के चलते मैंने वीजा लिया और अपनी मां के साथ देवास आ गया। वहां मैंने सोफिया के अभिभावकों से मुलाकात की, जो हमारी शादी के लिए तैयार हो गए, लेकिर उन्होंने शर्त रखी कि विवाह के बाद मैं भारत में बस जाउं।''

उसने कहा, ‘‘2013 में देवास मेंं हमारा विवाह हो गया और एक वर्ष बाद हमें एक लड़का हुआ।'' उसके अनुसार चूंकि वह एक पर्यटन वीजा पर भारत आया था उसने दीर्घकालिक वीजा के लिए एफआरआरओ से सम्पर्क किया और उसे अर्जी देेने के लिए कहा गया। उसने कहा, ‘‘मैंने अपना वीजा समाप्त होने से दो महीने पहले एफआरआरओ कार्यालय से सम्पर्क किया।''

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उसने कहा, ‘‘जिस दिन मेरे वीजा की अवधि समाप्त हुई, मैं अपनी वीजा अर्जी की स्थिति का पता लगाने एफआरआरओ कार्यालय गया। वहां मुझे भारत में अधिक समय तक रहने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया और जेल भेज दिया गया।'' अगस्त 2015 में एक अदालत ने वीजा नियमों का उल्लंघन करके भारत में अधिक समय रहने के लिए उसे एक वर्ष की सजा सुनाई।

दुरानी ने कहा, ‘‘आठ अगस्त 2016 को मुझे जेल से रिहा किया गया और पाकिस्तान उच्चायोग से यात्रा दस्तावेज के लिए एक पुलिस थाने में रखा गया। इसमें छह महीने से अधिक का समय लग गया।'' दुरानी ने कहा, ‘‘प्रेम कहानी का दुखद हिस्सा यह है कि मेरी पत्नी और बच्चे को मेरे साथ पाकिस्तान जाने की इजाजत नहीं दी गई है, मेरी पत्नी के लिए मेरे बिना भारत में रहना मुश्किल होगा। वे मुझे विदा करने के लिए अमृतसर में हैं, अब मुझे दोबारा भारत यात्रा की इजाजत नहीं मिलेगी क्योंकि मैंने वीजा नियमों का उल्लंघन किया है।''

वह इसको लेकर भी आश्वस्त नहीं कि पाकिस्तानी उच्चायोग उसकी पत्नी और दो वर्षीय पुत्र अरीज के लिए वीजा जारी करेगा या नहीं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top