बाबरी मसजिद एक्शन कमेटी नेता और पूर्व सांसद सैयद शहाबुद्दीन का निधन

बाबरी मसजिद एक्शन कमेटी नेता और पूर्व सांसद सैयद शहाबुद्दीन का निधनपूर्व सांसद सैयद शहाबुद्दीन। (फाइल फोटो)

लखनऊ। बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के नेता और पूर्व सांसद सैयद शहाबुद्दीन का शनिवार की सुबह तड़के नोएडा के अस्पताल में निधन हो गया। सैयद शहाबुद्दीन किशनगंज से दो बार सांसद रहे। 82 साल इस नेता को सांस लेने में तकलीफ होने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सैयद शहाबुद्दीन के दामाद भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी अफजल अमानुल्लाह ने बताया कि जोहर की नमाज के बाद दोपहर 1.30 बजे उन्हें लोदी रोड कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा।

राजनयिक, राजनेता और मुसलिम विद्धान के रूप में पहचान रखने वाले सैयद शहाबुद्दीन का जन्म 1935 में रांची में हुआ था। अपने समय में वह बिहार स्कूल परीक्षा समिति की मैट्रिक परीक्षा में टापर रहे। साल 1958 में भारतीय विदेश सेवा से अपने करियर की शुरूआत करने वाले शहाबुद्दीन 1978 में इस्तीफा देकर राजनीति में आए। वह लोकसभा और राज्यसभा के सांसद रहे। बाबरी मसजिद विध्वंस और शाहबानो केस के बाद इनका नाम देखभर में सुर्खियों में रहा। बाबरी मस्जिद गिराए जाने के विरोध में उन्होंने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था और बाबरी मसजिद एक्शन कमेटी का गठन किया था। साल 1989 में इंसाफ पार्टी का गठन किया था लेकिन एक साल के भीतर ही इसे भंग कर दिया था।

सैयद शहाबुद्दीन कई मुसलिम संस्थाओं और संगठनों से जुड़े हुए थे। वह आल इंडिया मुसलिम मजलिस-ए-मुसावरात के 2004 से लेकर 2007 तक अध्यक्ष रहे। उनके परिवार में उनकी चार बेटिया हैं एक बेटी परवीन अमानुल्लाह बिहार में नीतीश सरकार में मंत्री रह चुकी हैं और अभी आम आदमी पार्टी की बिहार ईकाई की नेता हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top