दलाई लामा के दौरे से सीख ले मंगोलिया : चीन

दलाई लामा के दौरे से सीख ले मंगोलिया : चीनतिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा।

बीजिंग (आईएएनएस/सिन्हुआ)। चीन ने मंगोलिया से दलाई लामा को फिर से अपने यहां यात्रा करने की अनुमति नहीं देने के अपने वादे पर कायम रहने की अपील करते हुए कहा कि उसे पूरे वाकए से सीख लेने की आवश्यकता है।

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक नियमित ब्रीफिंग में कहा, "चीन आशा करता है कि मंगोलिया पिछले महीने दलाई लामा की यात्रा से सबक लेगा और चीन के मूल हितों का सम्मान करेगा।"

दलाई लामा को दोबारा आने नहीं देंगे : मंगोलिया

तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा की मेहमाननवाजी करने के लिए चीनी कोप झेलने के बाद मंगोलिया ने कहा है कि वह तिब्बती धर्म गुरु को दोबारा देश का दौरा करने की इजाजत नहीं देगा। एक मंगोलियाई समाचार पत्र के हवाले से समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने कहा कि मंगोलिया के विदेश मंत्री त्सेंद मुंख-ओर्गिल ने दलाई लामा को धार्मिक उद्देश्य के लिए भी देश के दौरे की इजाजत नहीं देने की बात कही है। मंगोलिया ने यह प्रतिक्रिया मंगलवार को जाहिर की।

चीन की कड़ी आपत्ति के बावजूद गत माह दलाई लामा ने मंगोलिया का दौरा किया था और वहां के बौद्ध पुजारियों से मुलाकात की थी। चीन दलाई लामा पर तिब्बत में अलगाववादी गतिविधियां चलाने का आरोप लगाता रहा है।

गत सप्ताह मंगोलिया ने कहा कि चीन ने एक प्रमुख सीमा चौकी बंद कर दी है जिससे ट्रकों की आवाजाही प्रभावित हुई है। चीनी कदम को 'जैसे को तैसे' के रूप में देखा गया था।

मंगोलियाई ट्रकों पर चीन द्वारा उच्च यातायात शुल्क लगाए जाने से उत्पन्न आर्थिक संकट से निपटने के लिए मंगोलिया ने भारत से मदद मांगी थी। साल 1959 में तिब्बत से निकलने के बाद से दलाई लामा भारत में रह रहे हैं।

Share it
Top