भुवनेश्वर के सम अस्पताल की चिकित्सा सुविधाएं सील 

भुवनेश्वर के सम अस्पताल की चिकित्सा सुविधाएं सील ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक मरीजों का हालचाल जानने के बाद।

भुवनेश्वर (भाषा)। ओडिशा के भुवनेश्वर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस एंड एसयूएम अस्पताल में कल सोमवार को लगी आग के बाद बुरी तरह जल चुके कुछ हिस्सों को मंगलवार को सील कर दिया गया। इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई थी। अब आगजनी की विस्तृत जांच होनी है। मरीजों को अन्य अस्पतालों में भेज दिया गया है।

स्वास्थ्य सचिव आरती आहूजा आज सुबह इस निजी अस्पताल का जायजा लेने पहुंची।

जांच ठीक ढंग से हो यह सुनिश्चित करने के लिए गहन चिकित्सा केंद्र (आईसीयू), आपातकाल इकाइयों और डायलिसिस इकाई को सील कर दिया गया है।
आरती आहूजा स्वास्थ्य सचिव ओडिशा

सम अस्पताल में आग लगने की घटना के बाद यहां से 106 लोगों को शहर के दूसरे अस्पतालों में भेज दिया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। कुछ मरीजों को कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भी भेजा गया है।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक मरीजों का हालचाल जानने एम्स और एएमआरआई अस्पताल पहुंचे। इन मरीजों को सम अस्पताल में आगजनी के बाद इलाज के लिए यहां लाया गया था।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अतनु सब्यसाची नायक ने कहा कि उनकी प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना है कि मरीजों को उचित इलाज मिले। उन्होंने कहा कि कल रात अस्पताल में आग की घटना की गहराई से जांच करने के लिए कदम उठाए गए हैं।

राज्य सरकार ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। इस घटना की जांच चिकित्सीय शिक्षा एवं प्रशिक्षण के निदेशक करेंगे। एक अधिकारी के मुताबिक, इसके अलावा राजस्व संभागीय आयुक्त द्वारा जांच के आदेश भी हैं।

ओडिशा अग्निकांड पर राष्ट्रपति दुखी

भुवनेश्वर के अस्पताल में अपना जीवन खोने वाले लोगों के परिजनों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।
प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज ने शोक जताया

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उड़ीसा के भुवनेश्वर के एक अस्पताल में आग लगने से हुई मौतों पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने सोमवार देर रात ट्वीट कर इस हादसे पर गहरा दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उड़ीसा के भुवनेश्वर को एसयूएम अस्पताल में हुई मौतों से गहरा आघात पहुंचा है। इस हादसे से प्रभावित लोगों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं।


Share it
Share it
Share it
Top