कन्नौज में भाजपा ने दो पुराने चेहरों पर लगाया दांव

कन्नौज में भाजपा ने दो पुराने चेहरों पर लगाया दांवउत्तर प्रदेश का विधान भवन।

अजय मिश्र

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

कन्नौज। भाजपा ने विधानसभा प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। जिले में तीन विधानसभा सीटें हैं। सदर कन्नौज से तीन बार विधायक रहे चुके बनवारी लाल दोहरे को टिकट दिया गया है।

तिर्वा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा ने कैलाश राजपूत को टिकट थमाया है। वर्ष 1996 में उन्होंने पहली और अंतिम बार ही यहां से भाजपा के खाते में सीट डाली थी। उस समय यह उमर्दा विधानसभा क्षेत्र कहलाता था। वर्ष 2007 में बसपा से चुनाव जीते थे। वर्ष 2012 में वह बसपा के टिकट पर दोबारा चुनाव में उतरे मगर इस बार वे हार गए।

लेकिन 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने तिर्वा के डीएन इंटर कॉलेज खेल मैदान में हुई पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के समक्ष भाजपा ज्वाइन की थी। इस बार वह फिर से भाजपा के प्रत्याशी होंगे। कभी वह कल्याण सिंह के करीबियों में गिने जाते रहे हैं। जब वह मुख्यमंत्री थे तो मिनी मुख्यमंत्री का खिताब मिला था। लेकिन दोनों नेताओं के बीच में दूरियां हो गई थीं।

दूसरी ओर छिबरामऊ विधानसभा क्षेत्र से अर्चना पांडेय को पिछली बार की तरह इस बार भी प्रत्याशी बनाया गया है। वर्ष 2012 के चुनाव में वह तीसरे स्थान पर रही थीं। वह पूर्व सहकारिता मंत्री स्व. रामप्रकाश त्रिपाठी की बेटी हैं। इससे पहले स्व. त्रिपाठी इस सीट से 1993 और 2002 में विधायक भी रह चुके हैं। कन्नौज सदर सुरक्षित सीट से भारतीय जनता पार्टी ने बनवारी लाल दोहरे को प्रत्याशी बनाकर चुनाव मैदान में उतारा है।

वह वर्ष 1991, 1993 और 1996 में विधायक रह चुके हैं। इसके बाद से हुए चुनाव में उनका हार का ही सामना करना पड़ा। खास बात यह है कि छिबरामऊ और सदर के इन प्रत्याशियों ने कभी भी भाजपा का दामन नहीं छोड़ा, लेकिन तिर्वा के प्रत्याशी समय-समय पर पार्टी बदलते रहे। बावजूद इसके भाजपा ने उन पर विश्वास जताया है।

Share it
Share it
Share it
Top