आरक्षण विरोधी मानसिकता से काम कर रही है भाजपा : मायावती

आरक्षण विरोधी मानसिकता से काम कर रही है भाजपा : मायावतीबहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती।

लखनऊ (भाषा)। बहुजन समाज पार्टी मुखिया मायावती ने सोमवार को भाजपा पर आरक्षण-विरोधी मानसिकता के तहत काम करने तथा इस मामले में लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया।

मायावती ने यहां एक बयान में कहा कि शैक्षणिक, सामाजिक तथा आर्थिक पिछडपन के आधार पर दलितों, आदिवासियों और अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को आरक्षण दिए जाने की व्यवस्था है, लेकिन आजादी के बाद से विभिन्न विरोधी पार्टियों खासकर कांग्रेस तथा भाजपा सरकारों की गलत नीतियों तथा नीयत के कारण अगड़ी जातियों तथा अल्पसंख्यक समाज के लोगों में गरीबी काफी बढ़ी है, इसलिए उन्हें उनकी गरीबी के आधार पर अलग से आरक्षण की व्यवस्था किये जाने की जरूरत है।

बसपा प्रमुख ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा रविवार को एक टीवी साक्षात्कार में आरक्षण के सम्बन्ध में दिये गये कथित बयान पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि दलितों, आदिवासियों तथा अन्य पिछड़े को मिलने वाली 50 प्रतिशत के आरक्षण में कटौती किये बिना ही अगड़ी जातियों तथा अल्पसंख्यक समाज के गरीबों को आर्थिक आधार पर आरक्षण की व्यवस्था की जा सकती है और यह बात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भी मालूम होनी चाहिये, लेकिन वह जानबूझकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

मायावती के दावे के मुताबिक शाह ने साक्षात्कार में कहा है कि अगड़ी जातियों तथा अल्पसंख्यक समाज के गरीबों को आर्थिक आधार पर आरक्षण दिये जाने से दलितों, आदिवासियों तथा अन्य पिछड़ों के इस आरक्षण में कटौती हो जायेगी। उन्होंने कहा कि बसपा इसे स्वीकार नहीं करेगी।

बसपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को खासकर आरक्षण के मामले में अपनी कथनी और करनी में जमीन-आसमान के अन्तर को मिटाकर सही मानसिकता से काम करना होगा।

Share it
Share it
Share it
Top