बाराबंकी में बीएसएफ जवान की दिनदहाड़े हत्या, शादी के दिन ही चचेरे भाई ने मारी गोली

बाराबंकी में बीएसएफ जवान की दिनदहाड़े हत्या, शादी के दिन ही चचेरे भाई ने मारी गोलीबीएसएफ जवान अविनाश की 25 नवंबर को थी शादी, अस्पताल ले जाते वक्त अविनाश की मौत।

सतीश कश्यप

बाराबंकी। जिले में आज उस वक्त मातम पसर गया, जब शादी के दिन ही एक भाई ने दिनदहाड़े अपने भाई को गोली मार हत्या कर दी। मृतक बीएसफ का जवान था और 25 नवंबर यानी शुक्रवार को उसकी बारात जानी थी।

सीने और पैर में लगी गोली

यह घटना शहर कोतवाली नगर अंतर्गत घंटाघर मेन मार्केट की है। जहां आरोपी विकास ने शुक्रवार दोपहर को अपने सौतेले भाई अविनाश को अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मार कर हत्या कर दी। मृतक युवक नगर कोतवाली इलाके के लखपेड़ा बाग़ मोहल्ले का रहने वाला था। बीएसएफ में एसआई के पद पर कार्यरत अविनाश वर्तमान में जम्मू में तैनात था और अपनी शादी के लिए ही वह नौकरी से छुट्टी लेकर घर आया था। बीएसएफ जवान को उसके ही सौतेले भाई विकास ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से दिनदहाड़े घंटाघर के निकट गोली मार दी और घटनास्थल से फरार हो गया। अविनाश को सीने और पैर में गोली लगी थी। गंभीर घायल अविनाश को राजधानी लखनऊ के ट्रॉमा सेन्टर भेजा गया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। अविनाश की मौत हो चुकी थी। घटना की जानकारी होते ही बाराबंकी पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुच गए। पुलिस छानबीन कर रही है।

साली से शादी तय होने से खफा था विकास

बीएसएफ जवान अविनाश के परिजनों की मानें तो आरोपी विकास का अविनाश से संपत्ति के बटवारे का विवाद चल रहा था और इधर अविनाश की शादी विकास की साली ईशानी गुप्ता से तय हुई थी। ऐसे में विकास इस रिश्ते से काफी नाराज़ चल रहा था और लगातार लड़की के घर वालों पर शादी न करने का दबाव बना रहा था, लेकिन घर वाले उसकी बात मानने को तैयार नहीं हुए। वहीं, अविनाश की दुल्हन बनने की तैयारी कर रही इशानी का कहना है कि विकास एक आपराधिक प्रवृत्ति का है और जबसे शादी अविनाश से तय हुई, तब से लगातार उस पर इस शादी से इंकार कर देने का दबाव विकास और उसके चाचा बना रहे थे। इतना ही नहीं, कई बार रास्ते में रोककर धमकाया भी था। अविनाश की मौत के बाद इशानी के घर में मातम पसरा हुआ दिखाई दे रहा है। हालांकि सुरक्षा के मद्देनजर इशानी के घर पर पुलिसकर्मी तैनात कर दिए है।

हत्यारे को मिले फांसी की सजा

वहीं, सात फेरे लेने से पहले दुल्हन ने आरोपी भाई को फांसी की सजा दिलाने के साथ परिवार वालों के खिलाफ भी कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की मांग करते हुए इंसाफ की गुहार लगायी है।

अविनाश बीएसएफ का जवान है और जम्मू में तैनात था। विकास से उसका पहले से संपत्ति विवाद चल रहा था। विकास इस बात से भी नाराज़ था कि अविनाश की शादी उसकी साली से हो रही है। इसी कारण विकास ने अविनाश पर गोली चला दी और उसकी मौत हो गयी। पुलिस आरोपी विकास की गिरफ़्तारी के लिए प्रयास कर रही है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
राज बाबू सिंह, पुलिस अधीक्षक, बाराबंकी

Share it
Top