कावेरी विवाद : तमिलनाडु में विपक्षी दलों ने रोकी ट्रेन, 300 से ज्यादा गिरफ्तार

कावेरी विवाद : तमिलनाडु में विपक्षी दलों ने रोकी ट्रेन, 300 से ज्यादा गिरफ्तारतमिलनाडु में सोमवार को विपक्ष ने एकजुट होकर केंद्र के खिलाफ प्रदर्शन किया।

चेन्नई (भाषा)। तमिलनाडु में कावेरी मुद्दे पर किसानों के एक संघ की ओर से घोषित राज्यव्यापी रेल रोको प्रदर्शन में सोमवार को द्रमुक सहित विपक्षी दल भी शामिल हुए और केंद्र से कावेरी प्रबंधन बोर्ड (सीएमबी) की स्थापना का अनुरोध किया।

चेन्नई और कावेरी के तटीय जिलों सहित राज्य के विभिन्न इलाकों में हुए प्रदर्शनों में कई लोगों ने हिस्सा लिया, जिनमें द्रमुक के कोषाध्यक्ष एवं तमिलनाडु विधानसभा में विपक्ष के नेता एमके स्टाालिन भी शामिल थे।

स्टालिन ने यहां के पेरम्बूर में निकाली गई जुलूस का नेतृत्व किया, जबकि तंजावुर तथा कुड्डलोर में अन्य के साथ रेल रोको प्रदर्शन करने वालों में वाम दल एवं एमडीएमके भी शामिल हुए। सभी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया।

केंद्र से तत्काल सीएमबी के गठन का अनुरोध करते हुए किसानों के एक संघ ने सोमवार से दो दिवसीय रेल रोको प्रदर्शन का आह्वान किया था। राज्य में स्थिति के आकलन के लिए उच्चतम न्यायालय की ओर से गठित एक उच्च स्तरीय तकनीकी दल के कावेरी तटीय क्षेत्र का मुआयना खत्म करने के कुछ दिनों बाद यह प्रदर्शन हुआ।

दल ने शीर्ष अदालत को सौंपी रिपोर्ट

दल ने कर्नाटक में भी कावेरी तटीय क्षेत्रों का मुआयना किया और शीर्ष अदालत में अपनी रिपोर्ट जमा की। कर्नाटक से कावेरी के जल को छोड़े जाने की मांग वाली तमिलनाडु सरकार की याचिका पर सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने इस दल का गठन किया था।

भीड़ को रोकने के लिए पुलिस ने की लाठीचार्ज

रेल रोको अभियान के लिए दबाव डालने और यहां के रेलवे जंक्शन में घुसने की कोशिश कर रहे भारी तादाद में मौजूद विभिन्न विपक्षी दलों से संबंधी भीड़ को तितर बितर करने के लिए मदुरै सिटी पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस लाठीचार्ज में करीब पांच लोगों को मामूली चोटें आईं। ‘दक्षिण भारतीय नदी जोड़ो आंदोलन’ के नेता अय्याकन्नू के त्रिचूर-करुर खंड पर रेल पटरियों को बाधित करने के दौरान उन्हें कुदामुरुत्ती कुदिसाई में गिरफ्तार किया गया। कुड्डलोर में 700 से अधिक किसानों और राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने रेल रोको आंदोलन के तहत रेलवे स्टेशन में घुसने की कोशिश की, जिसके कारण पुलिस को भीड़ को तितर बितर करने के लिए हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा।

300 लोग गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि तकरीबन 300 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इरोड जिला में इरोड रेलवे स्टेशन में घुसने की कोशिश कर रहे कई किसानों और विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार कावेरी प्रबंधन बोर्ड गठन से केंद्र के इनकार किए जाने के विरोध में ये प्रदर्शनकारी प्रदर्शन कर रहे थे। एमडीएमके, भाकपा, माकपा, वीसीके, तंताई पेरियार द्रविड कझगम और कुछ अन्य संगठनों के 600 से अधिक कार्यकर्ता शहर के रेलवे स्टेशन के पास इकट्ठा हो गए थे।

Share it
Share it
Share it
Top