पठानकोट आतंकी हमले में चार्जशीट दाखिल, आतंकी मसूद अजहर और उसके भाई का भी नाम

पठानकोट आतंकी हमले में चार्जशीट दाखिल, आतंकी मसूद अजहर और उसके भाई का भी नाम2 जनवरी 2016 को हुआ था आतंकी हमला।

पठानकोट। पठानकोट आतंकी हमले में जांच एजेंसी एनआईए ने चंडीगढ़ की विशेष अदालत में चार्जशीट दाखिल कर दी है। इस चार्जशीट में जैश के सरगना मसूद अजहर और उसके भाई का नाम है। 2 जनवरी 2016 को तड़के पंजाब के पठानकोट में पठानकोट वायु सेना स्टेशन पर आतंकियों ने भारी गोला बारूद लेकर हमला किया था। हमले में सभी आतंकी मारे गए थे, जबकि पांच जवान शहीद हो गए थे। यहां पर आतंकियों की तलाश में 5 जनवरी तक खोज अभियान चला था।

2 जनवरी को पठानकोट एयरफ़ोर्स स्टेशन पर आर्मी की वर्दी में आए आतंकियों ने हमला कर दिया था। घटना के लगभग एक साल बाद राष्ट्रीय जाँच एजेंसी ( एनआईए ) ने 101 पन्नों का चार्जशीट दाखिल किया है। एनआईए द्वारा दाखिल चार्जशीट में जैश-ए-मोहम्द के आतंकी मसूद अजहर और उसके भाई रउफ अशगर का नाम शामिल है।

एनआईए द्वारा पंचकुला में स्थित विशेष अदालत के सामने चार्जशीट दाखिल किया गया है। चार्जशीट में जैश-ए-मोहम्द के आतंकी मसूद अजहर, उसके भाई रउफ अशगर, शहीद लतीफ और कासिफ जान का नाम शामिल है। हमले के कुछ दिन बाद ही आतंकी मसूद के भाई रउफ ने वीडियो जारी करके हमला कराने की जिम्मेदारी लिया था।

सुरक्षा में हुई थी बड़ी चूक

एनआईए द्वारा दाखिल किये गए रिपोर्ट के अनुसार हमले से पहले सुरक्षा एजेंसियों ने ख़ुफ़िया जानकरी जारी किया था कि आतंकी संगठन सेना से सम्बन्धित जगहों पर हमला कर सकते है। जानकरी होने के बावजूद इस हमले को नहीं रोका जा सका था। सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय ने पठानकोट हमले को सुरक्षा की चूक मानने से इंकार किया है।

हमले में 6 आतंकी और 5 जवान मरे थे

साल 2016 के दूसरे दिन ही पठानकोट स्थित एयरफोर्स के स्टेशन पर सुबह-सुबह आतंकियों ने हमला कर दिया था। 2 से 5 जनवरी ताक चले जवाबी करवाई में पाकिस्तान से आए 6 आतंकियों को भारतीय सेना ने मार गिराया था। इस हमले में भारत के पांच जवान शहीद हो गए थे। आतंकी अजहर मसूद को 1999 में यात्रियों से भरे आईसी 814 वायुयान के बदले छोड़ा गया था।

Share it
Share it
Share it
Top