संसद के शीतकालीन सत्र के लिए कांग्रेस ने बनाई रणनीति 

संसद के शीतकालीन सत्र के लिए कांग्रेस ने बनाई रणनीति कांग्रेस नेताओं ने सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक से पहले अपनी बैठक की।

नई दिल्ली (भाषा)। कांग्रेस ने संसद के बुद्धवार से शुरु होने जा रहे शीतकालीन सत्र के लिए मंगलवार को अपनी रणनीति पर चर्चा की। समझा जाता है कि पार्टी विमुद्रीकरण और अन्य मुद्दों को लेकर दोनों सदनों में सरकार को घेरेगी। कांग्रेस नेताओं ने सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक से पहले अपनी बैठक की।

सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में संपन्न बैठक के दौरान शीर्ष नेताओं की राय थी कि विमुद्रीकरण के मुद्दे और इसकी शुरुआत से पहले BJP को इसके कथित लीक होने के बारे में संसद के दोनों सदनों में सवाल उठाया जाएगा। कांग्रेस नेताओं ने सोमवार को प्रधानमंत्री पर अपने पार्टी नेताओं को विमुद्रीकरण की सूचना पहले देने का आरोप लगाते हुए इसे एक ‘‘बड़ा घोटाला'' बताया था। इस मुद्दे पर सरकार को घेरना चाह रही कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों को भी अपने साथ लाने के पक्ष में है। कई विपक्षी दलों की आज कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक होनी है।

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि कांग्रेस ने विमुद्रीकरण, लक्षित हमलों और पाकिस्तान के प्रति सरकार की नीति सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर कार्य स्थगन प्रस्ताव, अल्पकालिक चर्चा और ध्यानाकर्षण प्रस्तावों के लिए नोटिस दिए हैं। इसके अलावा कांग्रेस ‘वन रैंक वन पेंशन', जम्मू कश्मीर की स्थिति, किसानों की हालत और रेलवे तथा केंद्रीय बजट के विलय जैसे मुद्दों पर भी चर्चा करना चाहती है।

बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी, अहमद पटेल, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खडगे, आनंद शर्मा, जयराम रमेश और सत्यव्रत चतुर्वेदी आदि मौजूद थे।

Share it
Share it
Share it
Top