चैनलों पर प्रतिबंध देश को ‘दूसरे आपातकाल’ की तरफ ले जाएगा: द्रमुक 

चैनलों पर प्रतिबंध देश को ‘दूसरे आपातकाल’ की तरफ ले जाएगा: द्रमुक एम करुणानिधि

चेन्नई (भाषा)। द्रमुक ने पठनकोट हमले के प्रसारण को लेकर NDTV India पर एक दिन का प्रतिबंध लगाने को अभिव्यक्ति की आजादी का उल्लंघन बताते हुए शनिवार को कहा कि इस तरह के मामले जारी रहे तो यह देश को दूसरे आपातकाल की तरफ ले जाएगा। पार्टी अध्यक्ष एम करुणानिधि ने यह सुनिश्चित करने के लिए कि BJP के शासन में अभिव्यक्ति की आजादी प्रभावित ना हो प्रधानमंत्री से हस्तक्षेप करने को कहा।

93 साल के नेता ने कहा कि हाल की कार्रवाई ने उन्हें आपातकाल के दिनों की याद दिला दी जब पार्टी के मुखपत्र मुरासोली में छपे उनके लेखों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर केंद्र सरकार इस तरह की गतिविधियां जारी रखती है तो यह हमें दूसरे आपातकाल के तरफ ले जाएगा और वे काले दिन लोगों के जेहन में रच बस जाएंगे।'' तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘इसलिए प्रधानमंत्री खुद हस्तक्षेप करें और यह सुनिश्चित करने के लिए आगे आएं कि अभिव्यक्ति की आजादी पर कोई खतरा नहीं होगा। नहीं तो ये आरोप सच माने जाएंगे कि केंद्र की भाजपा सरकार लोकतंत्र की आड में तानाशाही लागू कर रही है।''

Share it
Top