अवसाद पर नियंत्रण में सहायक हो सकता है फेसबुक, ट्विटर

अवसाद पर नियंत्रण में सहायक हो सकता है फेसबुक, ट्विटरअध्ययन के मुताबिक, किसी व्यक्ति के स्वस्थ होने में सोशल नेटवर्किं ग का सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव पड़ता है।

लंदन (आईएएनएस)। सोशल नेटवर्किंग साइटों पर अधिक समय गुजारना मानसिक स्वास्थ्य पर अमूमन नकारात्मक प्रभाव डालता है, लेकिन एक नए अध्ययन के मुताबिक कुछ लोगों के लिए फेसबुक और ट्विटर अवसाद को नियंत्रित करने का एक साधन हो सकता है, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। अध्ययन के मुताबिक, किसी व्यक्ति के स्वस्थ होने में सोशल नेटवर्किं ग का सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव पड़ता है।

पत्रिका 'साइबरसाइकोलॉजी, बिहैवियर एंड सोशल नेटवर्किं ग' में प्रकाशित अध्ययन दर्शाता है कि सोशल नेटवर्किंग साइटों और अवसाद के बीच बेहद जटिल संबंध हैं और कुछ लोग वर्चुअल मीडिया से भी सामाजिक समर्थन का फायदा उठाते हैं।

ब्रिटेन के लैनकास्टर यूनिवर्सिटी के डेविड बेकर और गुईलेरमो पेरेज द्वारा किए गए अध्ययन के मुताबिक, इस जटिल संबंध पर मनोवैज्ञानिक, सामाजिक, व्यवहार तथा व्यक्तिगत कारणों का प्रभाव पड़ सकता है। निष्कर्ष के मुताबिक, चिकित्सकों को अपने मरीजों को यह सलाह देनी चाहिए कि वे दवा के अलावा, सोशल सपोर्ट सिस्टम का भी सहारा लें।

Share it
Top