चुनाव आयोग सरकार को एक फरवरी को बजट पेश करने से रोके: मायावती 

चुनाव आयोग सरकार को एक फरवरी को बजट पेश करने से रोके: मायावती बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती।

लखनऊ (भाषा)। बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती ने केंद्रीय निर्वाचन आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव का कार्यक्रम घोषित किये जाने का स्वागत करते हुए अनुरोध किया है कि वह केंद्र की भाजपा नीत सरकार को चुनाव के बीच एक फरवरी को आम बजट पेश करने से रोके।

मायावती ने यहां एक बयान में आयोग से अनुरोध किया कि वह चार फरवरी से आठ मार्च के बीच पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को निष्पक्ष ढंग से कराने के लिये केंद्र सरकार से कहे कि वह पूर्व निर्धारित तिथि यानी एक फरवरी को आम बजट पेश ना करे, क्योंकि चुनाव के दौरान आम बजट पेश करके मतदाताओं को प्रभावित किया जा सकता है।

आयोग केंद्र सरकार से कहे कि वह वर्ष 2012 की ही तरह सभी पांच राज्यों में मतदान की अंतिम तिथि यानी आठ मार्च के बाद किसी भी दिन बजट पेश करे।
मायावती, प्रमुख, बहुजन समाज पार्टी

BSP अध्यक्ष ने निर्वाचन आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश सहित देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिये मतदान कार्यक्रम घोषित करने का स्वागत करते हुये कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश के साथ-साथ उत्तराखण्ड और पंजाब में भी विधानसभा का चुनाव अपने बलबूते पर लड़ेगी।

मायावती ने कहा कि प्रदेश की BSP सरकार द्वारा पुलिस तथा प्रशासन को संकीर्ण राजनीतिक स्वार्थ की पूर्ति के लिये लगातार इस्तेमाल किया जाता रहा है। आगे भी SP की कामचलाऊ सरकार प्रशासनिक तंत्र का गलत इस्तेमाल कर सकती है। ऐसे में जरुरी है कि केंद्रीय सुरक्षा बलों की अधिक से अधिक तैनाती हो और स्थानीय पुलिस पर भी कडी नजर रखी जाये ताकि वह मनमाना और पक्षपाती रवैया ना अपना सके।

Share it
Top