305 किलोमीटर पैदल चले बाप-बेटे का नाम लिम्का बुक में दर्ज 

Ashish DeepAshish Deep   19 Oct 2016 10:16 PM GMT

305 किलोमीटर पैदल चले बाप-बेटे का नाम लिम्का बुक में दर्ज फोटो साभार एनिमेशन एक्सप्रेस डाॅट काॅम

देहरादून (भाषा)। देहरादून के एक पिता-पुत्र की जोड़ी ने ‘‘ग्रेट इंडियन डेजर्ट'' में सबसे लंबा ट्रैक सफलतापूर्वक पूरा कर लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करा लिया है। इस संबंध में लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड से मिले प्रमाणपत्र में कहा गया है कि माधव भारद्वाज और उनके पिता मोहन भारद्वाज ने थार मरुस्थल में केवल नौ दिनों में पैदल 305 किमी की दूरी तय की जो किसी पिता-पुत्र द्वारा पूरा किया गया सबसे लंबा ट्रैक है। इन्होंने राजस्थान के रेतीले क्षेत्रों में बीकानेर से जैसलमेर जिले तक का इलाका तय किया।

पिता-पुत्र दोनों ही दून स्कूल के छात्र रह चुके हैं। माधव फिलहाल स्कूल में 12 वीं कक्षा का छात्र है जबकि मोहन भारद्वाज 1980 बैच के विद्यार्थी थे। मोहन सीमा सुरक्षा बल से बतौर अफसर रिटायर हुए हैं। पिता-पुत्र पैदल ट्रैक पर इस साल 26 मार्च से तीन अप्रैल तक गये थे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top