वीरता पुरस्कार के लिए शहीद गुरनाम के नाम की सिफारिश करेगा BSF 

वीरता पुरस्कार के लिए शहीद गुरनाम के नाम की सिफारिश करेगा BSF गुरनाम सिंह

जम्मू (भाषा)। सर्वोच्च वीरता पुरस्कार के लिए BSF अपने एक शहीद जवान गुरनाम सिंह के नाम की सिफारिश करेगा। सिंह ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ की बड़ी कोशिश को नाकाम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। शुक्रवार को सीमापार से हुई गोलीबारी में घायल हुए 26 वर्षीय गुरनाम का जम्मू के सरकारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज चल रहा था लेकिन कल देर रात उनका निधन हो गया।

BSF की पश्चिमी कमांड के अतिरिक्त महनिदेशक अरुण कुमार से जब पूछा गया कि सर्वोच्च वीरता पुरस्कार के लिए क्या गुरनाम का नाम भेजा जाएगा, तो उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर उनके नाम की सिफारिश की जायेगी।'' अशोक चक्र शांतिकाल का सर्वोच्च वीरता पुरस्कार है।

कुमार ने शहीद को पुष्प गुच्छ अर्पित करते हुए कहा, ‘‘भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करने में गुरनाम ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। अगले दिन उन्हें निशाना बनाया गया। उनके द्वारा किए गए बलिदान पर ना केवल BSF बल्कि पूरे राष्ट्र को गर्व है।'' जम्मू स्थित BSF के सीमावर्ती मुख्यालयों में रवीवार को BSF ने सिंह को भावभीनी अंतिम विदाई दी। इसमें BSF के कई वरिष्ठ अधिकारियों समेत स्थानीय पुलिस बल मौजूद था। BJP के वरिष्ठ नेता भी यहां मौजूद थे। शहीद जवान की अंत्येष्टि सोमवार को उनके परिवार की इच्छानुसार की जाएंगी।

Share it
Top