गुजरात सरकार के बजट वर्ष 2017-18 में कोई नया कर नहीं  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   22 Feb 2017 11:40 AM GMT

गुजरात सरकार के बजट वर्ष 2017-18 में कोई नया कर नहीं   गुजरात सरकार में उपमुख्यमंत्री व वित्त मंत्री नितिन पटेल। 

गांधीनगर (भाषा)। गुजरात की भाजपा सरकार ने चुनावी वर्ष में लोकलुभावन बजट पेश किया। गुजरात सरकार में वित्त मंत्री नितिन पटेल ने विधानसभा में वर्ष 2017-18 के लिए कुल 1,72,179 करोड़ रुपए का बजट पेश किया। यह पिछले साल की तुलना में 20,327 करोड़ रुपए अधिक है। इस बजट में कई तरह की सामाजिक पहल की पेशकश की गई है, पर किसी नए कर का प्रस्ताव नहीं है।

वित्त मंत्री नितिन पटेल ने विधानसभा में कहा कि बजट में कुल अधिशेष 239.16 करोड़ रुपए तथा राजस्व अधिशेष 6,065.60 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

कर के मोर्चे पर पटेल ने सूचित किया कि बजट में किसी तरह की बढ़ोतरी का प्रस्ताव नहीं किया गया है, विशेषरुप से मूल्यवर्धित कर (वैट) में क्योंकि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का जल्द क्रियान्वयन होने वाला हैं। कुल 1,72,179 करोड़ रुपए के परिव्यय में से 1,03,498.49 करोड़ रुपए विकास खर्च और 66,969 करोड़ रुपए गैर विकास व्यय के लिए आवंटित किए गए हैं।

विकास के लिए खर्च में से कृषि सिंचाई तथा ग्रामीण विकास के लिए सबसे अधिक 21.88 प्रतिशत का आवंटन किया गया है। शिक्षा और खेल के लिए 21.17 प्रतिशत, जलापूर्ति, आवासा और शहरी विकास के लिए 16.72 प्रतिशत तथा ऊर्जा, उद्योग और खनिज क्षेत्र के लिए 10.42 प्रतिशत का आवंटन किया गया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top