गायत्री को गिरफ्तार करने पहुंची राजधानी पुलिस, मंत्री आवास पर छापा 

गायत्री को गिरफ्तार करने पहुंची राजधानी पुलिस, मंत्री आवास पर छापा मंत्री के आवास के अंदर दाखिल पुलिस।

लखनऊ। पहले अवैध खनन के आरोपों में फंस कर प्रदेश सरकार की किरकिरी करा चुके कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति पर लगे गैंग रेप के आरोप में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज करने वाली राजधानी पुलिस ने मंगलवार को उनकी गिरफ्तारी के लिए गौतमपल्ली स्थित सरकारी आवास पर छापा मारा और काफी देर तक वहां तलाशी ली। पुलिस सूत्रों का कहना है कि गायत्री घर पर मौजूद नही मिले जबकि पुलिा देर शाम तक उनके सरकारी घर पर डेरा डाले हुए थी जिससे साफ था कि आज उनकी गिरफ्तारी पूरी तरह संभव है।

ये भी पढ़ें- यूपी के मंत्री गायत्री प्रजापति को सुप्रीम कोर्ट से झटका, तीन साल पुराने यौन शोषण के मामले में दर्ज होगी एफआईआर

एसओ गौतमपल्ली ने बताया कि मंत्री पर एक युवती ने अपने सरकारी आवास पर बुलाकर उसे नशीला पदार्थ पिलाकर उसके साथ गैंगरेप करने का आरोप लगाया था । सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने मंत्री के खिलाफ गैंगरेप का मुकदमा दर्ज किया था जिसकी जांच एसएसपी मंजिल सैनी ने सीओ आलमबाग अमिता सिंह को सौंपी थी सीओ ने पीड़िता के बयान लेने व घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद प्रथम दृष्टया उन्हे दोषी मानते हुए उनकी गिरफ्तारी करने को हरी झंडी दे दी जिसके बाद मंगलवार को शाम को पुलिस ने गौतमपल्ली में मंत्री के सरकारी आवास को घेर कर छापा मारा।

मंत्री आवास।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

एसएसपी भी इस दौरान वहां पर मौजूद थी। छापे मारी के दौरान पुलिस ने बताया कि मंत्री घर पर मौजूद नही मिले जबकि सूत्रों का कहना है कि मंत्री अपने घर पर ही मौजूद है पुलिस उन्हे किसी समय गिरफ्तार कर ले जा सकती है। गैंग रेप के मामले में मंत्री के करीबी अशोक तिवारी,पिंटू सिंह, विकास वर्मा,रूपेश व आशीष भी आरोपी हैं पहले पुलिस मंत्री के खिलाफ कार्यवाई से कतरा रही थी पर जब कोर्ट के आदेश के बाद राजधानी पुलिस ने तेजी दिखायी न सिर्फ मुकदमा दर्ज किया बल्कि उनके खिलाफ जांच भी जल्द शुरू कर दी गयी और अब पुलिस गिरफ्तारी के लिए कमर कस चुकी है।

मौके पर एसओ गौतमपल्ली,एसएचओ हजरतगंज,एसओ हुसैनगंज,सीओ हजरतगंज एएसपी पूर्वी,व सीओ आलमबाग व भारी संख्या में पुलिस बल वहां पर मौजूद थी। खबर लिखे जाने तक एसएसपी व अन्य अधिकारी मंत्री के घर के अन्दर मौजूद थे। इस बारे में सीओ हजरतगंज अवनीश मिश्रा से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होने कहा कि कार्रवाई के चलते घटनास्थल का निरीक्षण किया जा रहा है उन्होंने गिरफ्तारी की बात को टालते हुए कहा कि उसकी आवश्कता होगी तो वह भी की जायेगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top