असम में उग्रवादी हमला, तीन जवान शहीद, गृह मंत्रालय की स्थिति पर नजर 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   19 Nov 2016 1:26 PM GMT

असम में उग्रवादी हमला, तीन जवान शहीद, गृह मंत्रालय की स्थिति पर नजर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह।

गुवाहाटी (आईएएनएस)| असम के तिनसुकिया जिले में शनिवार सुबह संदिग्ध उग्रवादियों ने सेना के एक काफिले पर हमला कर दिया, जिसमें तीन जवान शहीद हो गए। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उग्रवादियों हमले के बाद शनिवार को राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से इस बारे में बात की।

रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल सुनीत न्यूटन ने कहा कि सशस्त्र उग्रवादियों ने पहले एक इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) में विस्फोट कर दिया और उसके बाद वाहन पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी।

घटना सुबह करीब 5.30 बजे पेनगेरी इलाके की है। न्यूटन ने कहा, "गोलीबारी में चार जवान घायल हो गए। हम उन्हें अस्पताल ले गए, जहां तीन ने दम तोड़ दिया।"

हमला नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड-खापलंग (एनएससीएन-के) और आतंकवादी संगठन युनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) के वार्ता विरोधी गुट ने किया।
मुग्धज्योति महंत पुलिस अधीक्षक तिनसुकिया

वहीं, रक्षा प्रवक्ता ने कहा, "उग्रवादियों ने एके-47, आरपीजी, लीथोड बंदूकों और अन्य संवेदनशील हथियारों से काफिले पर हमला किया था।"

गृह मंत्री राजनाथ ने सीएम सोनोवाल से उग्रवादी हमले की जानकारी ली

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने असम के तिनसुकिया जिले में सेना के एक काफिले पर उग्रवादियों के हमले के बाद शनिवार को राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से इस बारे में बात की। राजनाथ ने कहा कि गृह मंत्रालय स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, "असम के मुख्यमंत्री (सर्बानंद) सोनोवाल से बात की। उन्होंने मुझे तिनसुकिया में हुए हमले के मद्देनजर स्थिति की जानकारी दी। गृह मंत्रालय स्थति पर करीब से नजर रखे हुए है।"

तिनसुकिया में हुए विस्फोट में जवानों की शहादत के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। मैं घायल जवान के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।
राजनाथ सिंह केंद्रीय गृह मंत्री

रक्षा अधिकारियों के अनुसार, घटना तिनसुकिया के पेंगेरी इलाके में सुबह करीब 5.30 बजे की है। स्थानीय लोगों ने बताया कि उग्रवादियों ने सड़क के दोनों ओर से सैन्य वाहन पर गोलीबारी की। सड़क के दोनों और वन क्षेत्र है।



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top