जूनियर ने मारा थप्पड़, स्टेशन मास्टर के कान का पर्दा फटा 

जूनियर ने मारा  थप्पड़, स्टेशन मास्टर के कान का पर्दा फटा उत्तर प्रदेश का भरुआ सुमेरपुर रेलवे स्टेशन।

हमीरपुर (आईएएनएस/आईपीएन)। उत्तर प्रदेश के भरुआ सुमेरपुर रेलवे स्टेशन में तैनात स्टेशन मास्टर नरेंद्र कुमार वर्मा को सहायक स्टेशन मास्टर ने मामूली विवाद में स्टेशन पर ही एक जोरदार थप्पड़ जड़ दिया। वर्मा को एक कान से सुनाई नहीं दे रहा है। मामले जांच की जीआरपी झांसी के सीओ कर रहे हैं।

पुलिस के अनुसार, नरेंद्र कुमार वर्मा भरुआ सुमेरपुर रेलवे स्टेशन में वर्ष 2007 से स्टेशन मास्टर के पद पर कार्यरत हैं। इस स्टेशन में 20 का स्टाफ हैं। सहायक स्टेशन मास्टर के साथ ही एक पद सहायक स्टेशन मास्टर का है, जिस पर सुधीर कुमार सक्सेना काफी अर्से से तैनात हैं।

रेलवे स्टेशन में छह दिन पूर्व टिकट बिक्री का कैश 1 लाख 98 हजार 950 रुपए स्टेशन मास्टर के चार्ज में था। इस कैश को उसने सहायक स्टेशन मास्टर के चार्ज में दिया और स्टेशन मास्टर ने कहा कि कैश गिन लो। इतना सुनते ही सक्सेना भड़क गए। आरोप है कि स्टेशन मास्टर के साथ सहायक स्टेशन मास्टर ने अभद्रता करते हुए एक जोरदार थप्पड़ कान पर जड़ दिया। थप्पड़ लगते ही स्टेशन मास्टर जमीन पर गिर गए।

मारपीट की घटना से स्टेशन में अफरा-तफरी मच गई। कर्मचारियों ने भी इस पर हंगामा किया। घटना की रिपोर्ट स्टेशन मास्टर ने जीआपी बांदा में सहायक स्टेशन मास्टर के खिलाफ दर्ज कराई। उनका मेडिकल परीक्षण भी हुआ। पूरे मामले की जांच भी जीआरपी झांसी के सीओ ने शुरू कर दी है। पिछले दिनों सीओ जीआरपी झांसी ने यहां आकर जांच की है।

भरुआ सुमेरपुर रेलवे के स्टेशन मास्टर वर्मा ने बताया कि थप्पड़ से उनके एक कान का पर्दा फट गया है। उनका कहना है कि कैश गिनने की बात कहने पर सहायक स्टेशन मास्टर का यह बर्ताव अनुशासनहीनता का द्योतक है। उन्होंने कहा कि बांदा में एंटी सर्जन से कान का उपचार कराया जा रहा है। डाक्टर ने जांच कर बताया है कि कान के पर्दे में छेद हो गया है।

Share it
Top