राजस्थान में तीन लोगों से दो हजार के नए नोटों में चालीस लाख रुपये बरामद 

राजस्थान में तीन लोगों से दो हजार के नए नोटों में चालीस लाख रुपये बरामद राजस्थान पुलिस की विशेष शाखा (एसओजी) ने दो व्यवसायियों के पास से दो हजार के नए नोटों में 35 लाख रुपये बरामद किये।

जयपुर (भाषा)। राजस्थान में दो अलग-अलग मामलों में तीन लोगों से दो हजार के नए नोटों में चालीस लाख रुपये बरामद किए गए हैं। राजस्थान पुलिस की विशेष शाखा (एसओजी) ने दो व्यवसायियों के पास से दो हजार के नए नोटों में 35 लाख रुपये बरामद किये। दोनों कथित रुप से पुराने नोट कमीशन पर बदल रहे थे। एसओजी के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों व्यवसायी एसओजी की निगरानी में पिछले कुछ दिनों से थे।

SOG के पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने आज बताया, ‘‘हमने कल रात एक पुलिसकर्मी को नोट बदलवाने के लिये दोनों व्यवसायियों को पास फर्जी ग्राहक बनाकर भेजा था, दोनों व्यवसायी 25 प्रतिशत कमीशन लेकर नोट बदलने के लिये तैयार हो गये। उसके बाद दोनों व्यवसायियों को पकड लिया गया।'' उन्होंने बताया कि एसओजी के दल ने आरोपी व्यवसायी सुनील गुप्ता और प्रियांशु गुप्ता को विद्याधर नगर इलाके से पकड़ा और उनके कब्जे से 36 लाख रुपये बरामद किये। बरामद राशि में से 35 लाख रुपये दो हजार के नये नोट और शेष राशि 100 के नोट में थी।

एटीएस और एसओजी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने बताया कि नोट बरामदगी के मामले आगे की कार्रवाई के लिये आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया है। राजस्थान के नागौर जिले में कल पुलिस ने कल बिना हिसाब वाले 6 लाख 72 हजार रुपये बरामद किये थे। बरामद की गई राशि में से 5 लाख 68 हजार रुपये दो हजार के नये नोटों और शेष राशि सौ और पचास के नोटों के रुप में बरामद की गई थी।

यह राशि अजीत मलिक नामक एक व्यक्ति से नागौर जिले के डीडवाना थाना क्षेत्र से बरामद की गई। बरामद राशि के बारे संतोषजनक जवाब नहीं देने पर राशि जब्त कर ली गई और इस संबंध में आयकर विभाग को सूचित कर दिया गया। डीडवाना थानाधिकारी जितेन्द्र सिंह ने बताया कि हमने राशि जब्त कर आगे की कार्रवाई के लिये आयकर विभाग को सूचित कर दिया है।

Share it
Top