इंडियन फार्मा, चिकित्सा उपकरण पर प्रदर्शनी 11 फरवरी से

इंडियन फार्मा, चिकित्सा उपकरण पर प्रदर्शनी 11 फरवरी सेकेंद्रीय रसायन एवं उवर्रक तथा संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार।

बेंगलुरू (आईएएनएस)। फॉर्मास्यूटिकल एवं चिकित्सा उपकरण क्षेत्र पर द्वितीय अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी एवं सम्मेलन 11 से 13 फरवरी तक यहां आयोजित किया जाएगा। यह सम्मेलन वैश्विक रूप से प्रतिस्पर्धी बनने में भारतीय फॉर्मा एवं चिकित्सा उपकरण क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए एक मंच साबित होगा।

केंद्रीय रसायन एवं उवर्रक तथा संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह अंतर्राष्ट्रीय समारोह न केवल भारतीय फॉर्मास्यूटिकल एवं चिकित्सा उपकरण क्षेत्र हेतु वैश्विक क्षमता के दोहन के लिए एक मंच उपलब्ध कराएगा, बल्कि यह भारत को इस क्षेत्र के लिए एक आकर्षक निवेश गंतव्य के रूप में खुद को प्रदर्शित करने का एक अवसर भी उपलब्ध कराएगा।

'जिम्मेदार स्वास्थ्य देखभाल' विजन के साथ रसायन एवं उवर्रक मंत्रालय का फॉर्मास्यूटिकल्स विभाग (डीओपी), उद्योग चैंबर फिक्की के सहयोग से यह प्रदर्शनी आयोजित कर रहा है।

यह अंतर्राष्ट्रीय समारोह भारतीय विनिर्माताओं के साथ संयुक्त उद्यमों को बढ़ावा देने के साथ अनुसंधान एवं विकास, नैदानिक परीक्षणों जैसे नए क्षेत्रों में विदेशी निवेश भी लाएगा। साथ ही, यह दुनिया भर से इस क्षेत्र में व्याप्त सर्वश्रेष्ठ पद्धतियों को भी देश में लाएगा।
अनंत कुमार, केंद्रीय रसायन एवं उवर्रक तथा संसदीय मामलों के मंत्री

मंत्री ने कहा कि इस वर्ष 'इंडिया फॉर्मा एवं इंडिया मेडिकल डिवाइस 2017' सम्मेलन : चिकित्सा उपकरण - 'भविष्य को आकार देना - सही चयन करना' एवं फॉर्मा - 'भारतीय फॉर्मा के भविष्य को आकार देना' विषयों के ईर्द-गिर्द आधारित है।

उन्होंने कहा, ''यह अंतर्राष्ट्रीय दवा नियामकों, अंतर्राष्ट्रीय क्रेताओं, निवेशकों एवं वैश्विक फॉर्मा एवं चिकित्सा उपकरण क्षेत्र के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के लिए एक मिलन बिंदु की भूमिका निभाएगा जो भाग लेने वाले हितधारकों को नेटवर्क करने तथा आपस में ही सीखने के लिए पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराएगा। यह सम्मेलन एक फॉर्मा कुंभ होगा और इसकी विशेषता अंतर्राष्ट्रीय दवा नियामकों की बैठक होगी।''

Share it
Share it
Share it
Top