#MPGIS2016: मध्य प्रदेश में वैश्विक निवेशक सम्मेलन में 3,000 प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा  

#MPGIS2016: मध्य प्रदेश में वैश्विक निवेशक सम्मेलन में 3,000 प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

इंदौर (भाषा)। मध्य प्रदेश में शनिवार से शुुरू हो रहे दो दिवसीय वैश्विक निवेशक सम्मेलन (#MPGIS2016) में देश और दुनिया से 3,000 से अधिक व्यापार जगत से जुड़े प्रतिनिधि भाग लेंगे।सम्मेलन में कृषि कारोबार, खाद्य प्रसंस्करण, वाहन, इंजीनियरिंग, रक्षा, आईटी, अक्षय उर्जा, औषधि, कपडा तथा पर्यटन क्षेत्र से जुडी कंपनियों के प्रतिनिधि भाग लेंगे।

सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व्यापार अनुकूल नीतियों और कुशल कार्यबल के बारे में सूचना देकर घरेलू और वैश्विक निवेशकों को निवेश के लिये आकर्षित करेंगे।

राज्य सरकार ने एक बयान में कहा, ‘‘इस सम्मेलन में राज्य की अच्छी चीजों और औद्योगिक कौशल को प्रस्तुत किया जाएगा। साथ ही यह नीति निर्माता, नौकरशाह, उद्योग जगत के प्रमुख, निवेशकों, पेशेवरों तथा शिक्षा जगत से जुडे लोगों को बातचीत के लिए मंच उपलब्ध कराएगा।''

बयान में चौहान के हवाले से कहा गया है, ‘‘मध्य प्रदेश देश में तीव्र वृद्धि हासिल करने वाले राज्यों में से एक है, हमारी व्यापार अनुकूल नीतियां तथा कुशल कार्यबल के साथ हम ‘मेक इन इंडिया' के लिये वृद्धि का मजबूत स्तंभ बनने की आकांक्षा रखते हैं।''

छूट समेत कई प्रोत्साहनों की पेशकश

सरकार कम दर पर जमीन, कर छूट तथा बिजली दरों में छूट समेत कई प्रकार के प्रोत्साहनों की पेशकश कर रही है। राज्य ने निवेश सुगमता के लिए एकल खिड़की सचिवालय, मध्य प्रदेश व्यापार एवं निवेश सुगमीकरण निगम का गठन किया है। यह संभावित निवेशकों को राज्य में कारोबार लगाने के लिए विभिन्न प्रकार की मंजूरी के लिए आनलाइन आवेदन की अनुमति देता है। कुल 3,000 प्रतिनिधियों में से करीब 500 दक्षिण कोरिया, संयुक्त अरब अमीरात, जापान, सिंगापुर तथा ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

सम्मेलन के अलावा राज्य तीन दिवसीय व्यापार प्रदर्शनी का आयोजन कर रहा है, जिसमें घरेलू और अंतरराष्ट्रीय प्रतिभागी भाग लेंगे।

सम्मेलन में शामिल उद्योग मंडल सीआईआई ने कहा कि मध्य प्रदेश देश में तीव्र वृद्धि वाला राज्य के रूप में उभरा है और कारोबार सुगमता के लिहाज से प्रमुख राज्यों में से एक है।


Share it
Share it
Share it
Top