महंगाई दर बढ़ी पर खाने-पीने की चीजें रहीं सस्ती

महंगाई दर बढ़ी पर खाने-पीने की चीजें रहीं सस्तीदिसंबर में थोक महंगाई दर में हुई बढ़ोत्तरी।

नई दिल्ली। दिसंबर में थोक महंगाई दर बढ़कर 3.39 फीसदी पर पहुंच गयी है। नवंबर में थोक महंगाई दर 3.15 फीसदी रही थी। वहीं, अक्टूबर की थोक महंगाई दर 3.39 फीसदी से संशोधित होकर 3.79 फीसदी हो गयी है। हालांकि खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर में कमी देखने को मिली है।

महीने दर महीने आधार पर दिसंबर में खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर 1.54 फीसदी से घटकर -0.7 फीसदी रही है। अगस्त 2015 के बाद खाने-पीने की चीजों की महंगाई दर में कमी आयी है। दिसंबर में प्राथमिक उपभोक्ता वस्तु की महंगाई दर भी घटी है. महीने दर महीने आधार पर दिसंबर में प्राथमिक उपभोक्ता वस्तु की महंगाई दर 1.25 फीसदी से घटकर 0.27 फीसदी रही है, हालांकि, महीने दर महीने आधार पर दिसंबर में ईंधन और ऊर्जा क्षेत्र की महंगाई दर 7.07 फीसदी से बढ़कर 8.65 फीसदी रही है।

जून 2014 के बाद ईंधन और ऊर्जा की महंगाई दर सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गयी है। मासिक आधार पर दिसंबर में निर्माण उद्योग की महंगाई दर 3.2 फीसदी से बढ़कर 3.67 फीसदी रही है। जुलाई 2014 के बाद निर्माण उद्योग की महंगाई दर सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गयी. महीने दर महीने आधार पर दिसंबर में प्रमुख महंगाई दर 1.6 फीसदी से बढ़कर 2.2 फीसदी रही।

Tags:    inflation 
Share it
Share it
Share it
Top