सोमवार को जाट प्रदर्शनकारियों का आन्दोलन दिल्ली पुलिस के लिए चुनौती

सोमवार को जाट प्रदर्शनकारियों का आन्दोलन दिल्ली पुलिस के लिए चुनौतीशांतिपूर्वक प्रदर्शन के लिए दिल्ली पुलिस ने पहले से ही अपने को तैयार कर लिया हैं।

दिल्ली। आरक्षण के मुद्दे को लेकर जाट किसी भी कीमत पर पीछे हटने को बिलकुल तैयार नहीं है। आन्दोलनकारी सोमवार को दिल्ली में संसद घेराव की बात कर रहे हैं। किसी भी तरह के बवाल को रोकना दिल्ली पुलिस के लिए सर दर्द से कम नहीं हैं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

प्रदर्शनकारी शांतिपूर्वक प्रदर्शन करें इसके लिए दिल्ली पुलिस ने पहले से ही अपने को तैयार कर लिया हैं। गौरतलब है कि आरक्षण के मुद्दे को लेकर जाट लम्बे समय से प्रदर्शन करते आ रहे हैं। उधर दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने आलाधिकारियों के साथ बैठक कर सख्त निर्देश दिये हैं कि किसी भी हाल में कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ नहीं होना चाहिये। प्रदर्शनकारियों को हथियार एवं ट्रेक्टर ट्रॉली के साथ राजधानी में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा।

प्रदर्शनकारियों को शहर के बाहर रोकने के लिये सीआरपीएफ जवानों का सहयोग भी लिया जायेगा। इसके अलावा दिल्ली पुलिस का रिज़र्व स्टाफ तो होगा ही साथ में रेलवे पुलिस को भी सुरक्षा के मद्देनज़र लगाया जायेगा। प्रदर्शनकारियों के चलते 19 मार्च से ही दिल्ली में धारा 144 लागू कर दी गई थी।वहीं संसद की सुरक्षा दिल्ली पुलिस के हाथ में है इसलिए पुलिस किसी भी तरीके की लापरवाही नहीं करेगी।

अखिल भारतीय जाट संघर्ष समिति द्वारा दिल्ली में प्रदर्शन के एलान के बाद प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए तीन चक्रीय सुरक्षा का घेरा बनाया है। प्रदर्शनकारियों को हर हाल में रोकने के लिए दिल्ली पुलिस और हरियाणा पुलिस दोनों ही आपस में मिलकर काम कर रही हैं। इतनी सुरक्षा के चलते आन्दोलनकारियों का संसद तक पहुचना किसी चुनौती से कम नहीं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top