जानिये जयललिता के बारे में कुछ खास बातें

जानिये जयललिता के बारे में कुछ खास बातेंफाइल फोटो

लखनऊ। तमिलनाडु में अम्मा के नाम से प्रसिद्ध जयललिता का सोमवार को निधन हो गया। आइए जानते हैं उनके बारे में कुछ बातें।

  • दक्षिण भारत में खासकर तमिलनाडु के लोगों के बीच भगवान की तरह पूजी जाने वाली जयललिता एक वक्त तमिल फिल्म इंडस्ट्री की सुपर स्टार थीं। उन्होंने उस जमाने के बॉलीवुड सुपरस्टार धर्मेंद्र के साथ इज्जत नाम की फिल्म में काम किया था। यह फिल्म साल 1968 में आई थी।
  • जयललिता ने न सिर्फ अभिनय किया बल्कि खासतौर पर नृत्य करना भी सीखा. आपको जानकर हैरानी होगी की जयललिता को भरतनाट्यम, मोहिनीहट्टम, मणिपुरी और कथ्थक जैसे डांस फॉर्म पर पकड़ थी. इतना ही नहीं उन्होंने शास्त्रीय संगीत की भी सीखी थी।
  • साल 1991 में जयललिता तमिलनाडु की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी।

फाइल फोटो

परिचय

जयललिता का जन्म 24 फरवरी 1948 को मैसूर में हुआ था। उनके दादा नरसिम्हन रंगाचारी मैसूर रियासत के डॉक्टर और सर्जन थे। उनके नाना रंगास्वामी अयंगर हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड में काम करते थे। उनके पिता जयराम वकील थे। जयललिता जब दो साल की थीं तो उनके पिता का निधन हो गया। पिता के निधन के कुछ साल बाद उनकी मां वेदवल्ली पहले क्लर्क के तौर पर और बाद में फिल्मों और नाटकों में काम करने लगीं। जयललिता की मौसी अंबुजावल्ली उनकी मां के पहले ही फिल्मों और नाटकों में काम करती थीं। अंबुजावल्ली ने ही अपनी बड़ी बहन को परिवार चलाने के लिए फिल्मों में काम करने के लिए प्रेरित किया था। उनकी मां का फिल्मी नाम”संध्या” था।

मुख्यमंत्री के रूप में कार्यकाल

  • 24 जून 1991 से 12 मई 1996 तक।

फाइल फोटो

  • 14 मई 2001 से 21 सितंबर 2001 तक।
  • 2 मार्च 2002 से 12 मई 2006 तक।
  • 16 मई 2011 से अब तक।

तीन बार मिला फिल्मफेयर

जयललिता की गिनती साउथ सिनेमा की सबसे खूबसूरत एक्ट्रेसेस में होती थी। उनके शानदार अभिनय के लिए उन्हें तीन बार फिल्मफेयर के बेस्ट एक्ट्रेस (साउथ) के अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। पहला फिल्मफेयर उन्हें शिवाजी गणेशन की तमिल फिल्म पत्तिकाड़ा पत्तनामा (1971) के लिए मिला था। इसी साल तेलुगु फिल्म 'श्री कृष्ण सत्य' के लिए उन्हें दूसरा फिल्मफेयर मिला। साल 1973 में तमिल फिल्म सूर्यकांति' के लिए तीसरा फिल्मफेयर मिला था।

Share it
Top