इंदौर पटना एक्सप्रेस हादसा: मुख्यमंत्री अखिलेश ने पांच-पांच लाख रुपए की मदद देने का किया ऐलान  

इंदौर पटना एक्सप्रेस हादसा: मुख्यमंत्री अखिलेश ने पांच-पांच लाख रुपए की मदद देने का किया ऐलान  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

कानपुर (आईएएनएस)| कानपुर देहात में पुखरायां के निकट इंदौर पटना एक्सप्रेस के 14 डिब्बे रविवार तड़के पटरी से उतर गए। इस दुर्घटना में 96 लोगों की मौत हो गई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने हादसे में मारे गये लोगों के परिजनों को पांच पांच लाख रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की जबकि गंभीर रूप से घायल लोगों को पचास पचास हजार रुपए देने का ऐलान किया। उन्होंने बताया कि मामूली रूप से घायल लोगों को मुख्यमंत्री ने पच्चीस पच्चीस हजार रुपए की मदद का ऐलान किया है।

दुर्घटना में 90 रेल यात्रियों की मौत : डीएम कानपुर देहात

कानपुर देहात के जिलाधिकारी रविकांत सिंह ने बताया कि दुर्घटना में 90 रेल यात्रियों की मौत हो गई है, ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतरे हैं, दुर्घटना कानपुर देहात में पुखरायां के निकट हुई। दुर्घटना में डेढ़ सौ से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है। दुर्घटना तड़के तीन बजे हुई। उस समय यात्री सोये हुए थे।

करीब 150 घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया : पुलिस महानिदेशक कानपुर रेंज

कानपुर रेंज के पुलिस महानिदेशक जकी अहमद ने बताया कि 150 से अधिक घायल लोगों को आस-पास के अस्पतालों में पहुंचाया गया है, सभी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है, तीस से अधिक एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंच चुकी हैं। राहत और बचाव कार्य में 250 से अधिक पुलिस अधिकारियों को लगाया गया है।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने दिए दुर्घटना की जांच के आदेश

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं। प्रभु ने ट्वीट किया, ‘‘इस दुर्घटना के बाद राहत कार्य संचालित किए जा रहे हैं। चिकित्सकीय एवं अन्य मदद पहुंचाई गई है। जांच के आदेश दिए गए हैं।''

राहत कार्यों की निजी तौर पर निगरानी करें पुलिस महानिदेशक : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पुलिस महानिदेशक को निर्देश दिया है कि वह राहत कार्यों की निजी तौर पर निगरानी करें और ट्रेन के रुट पर यातायात पुलिस को तैनात करें ताकि एंबुलेंस को अस्पताल जल्द से जल्द पहुंचाने के लिए ‘ग्रीन कॉरिडोर' बनाया जा सके। कानपुर जिले के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे दुर्घटना में घायल लोगों के इलाज के लिए अधिक से अधिक डाक्टरों की सेवाएं लेने के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन से मदद लें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राहत कार्य में मदद के लिए और एंबुलेंस एवं रोडवेज की बसें घटनास्थल के लिए भेजी गई हैं।

रेल मंत्रालय के प्रवक्ता अनिल सक्सेना ने बताया कि कई घायलों को आसपास के अस्पतालों में पहुंचाया गया है, हताहतों की संख्या बढ़ सकती है।

सूत्रों ने बताया कि दुर्घटना की वजह का तत्काल पता नहीं लग सका है लेकिन आशंका है कि ‘रेल फ्रैक्चर' के कारण ये हादसा हुआ।

कानपुर देहात के महत्वपूर्ण नम्बर जिन पर पुखरायां की ट्रेन दुर्घटना से सम्बंधित जानकारी/सहायता के लिए सम्पर्क किया जा सकता है:

पुखरायां की ट्रेन दुर्घटना में घायल मेडिकल कॉलेज कानपुर नगर में भर्ती किये गए लोगों की सूची।

पुखरायां की ट्रेन दुर्घटना- जिला अस्पताल, कानपुर देहात में भर्ती घायलों की सूची (1/2)

Share it
Top