कानपुर देहात के रुरा रेलवे स्टेशन के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 15 डिब्बे पटरी से उतरे, 52 घायल  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   28 Dec 2016 1:11 PM GMT

कानपुर देहात के रुरा रेलवे स्टेशन के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 15 डिब्बे पटरी से उतरे, 52 घायल   कानपुर देहात के रुरा रेलवे स्टेशन के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 15 डिब्बे पटरी से उतर गए, सहायता मुहैया करते लोग।

कानपुर (भाषा)। कानपुर देहात के रुरा रेलवे स्टेशन के पास आज सुबह अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 15 डिब्बे पटरी से उतरने सेे 52 यात्री घायल हो गए। पिछले दो महीने में इस क्षेत्र में यह दूसरी ट्रेन दुर्घटना है।

उत्तर मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय ने कहा कि यहां से करीब 70 किलोमीटर दूर सुबह करीब छह बजे यह हादसा रुरा रेलवे स्टेशन के पास हुआ है। दुर्घटना के वक्त ट्रेन एक नहर के ऊपर बने पुल को पार कर रही थी।

कानपुर देहात के रुरा रेलवे स्टेशन के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 15 डिब्बे पटरी से उतर गए, सहायता मुहैया करते लोग।

कानपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक जकी अहमद का कहना कहा कि ट्रेन की शयनयान श्रेणी के 13 और सामान्य श्रेणी के दो डिब्बे पटरी से उतरने 52 लोग घायल हुए हैं।

उन्होंने कहा कि बचाव कार्य पूरा हो चुका है. पटरी से उतरे डिब्बों से सभी यात्रियों को बाहर निकाल लिया गया है. घायल यात्रियों में से 42 को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि 10 लोगों का इलाज कानपुर के हैलट अस्पताल में चल रहा है। हादसे के कारण वहां फंसे यात्रियों को कानपुर रेलवे स्टेशन तक लाने के लिए बसों को मौके पर भेजा गया है।

पढ़िए...

कानपुर देहात में अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस में 52 घायल लोगों के नाम जानिए

इस हादसे से करीब एक महीने पहले 20 नवंबर को कानपुर देहात जिले में इंदौर-पटना एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। हादसे में 150 से ज्यादा लोग मारे गए थे, जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

रेलमंत्री सुरेश प्रभु का कहना है कि वह व्यक्तिगत रुप से हालात की निगरानी कर रहे हैं।

यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए हम वैकल्पिक व्यवस्था कर रहे हैं। घायलों को हरसंभव सहायता मुहैया कराई जा रही है।
सुरेश प्रभु रेल मंत्री

उन्होंने कहा, ‘‘कानुपर के पास अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के बेपटरी होने के मद्देनजर व्यक्तिगत रूप से हालात की निगरानी कर रहा हूं।'' उन्होंने कहा कि घायल यात्रियों को भी सहायता राशि दी जाएगी।

प्रभु ने कहा, यात्रियों को बहुत कम असुविधा हो इसके लिए उन्हें हर संभव सहायता मुहैया करायी जा रही है. ‘‘हम अपना सर्वोत्तम प्रयास कर रहे हैं।'' अमित मालवीय ने कहा कि कानुपर के रास्ते होकर जाने वाले दिल्ली-हावडा मार्ग को अस्थाई रुप से बंद कर दिया गया है और दिल्ली-कानपुर शताब्दी एक्सप्रेस रद्द कर दी गई है। रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं, कानपुर के लिए 0512-2323015, 2323016 और इलाहाबाद के लिए 0532-2408149, 2408128।

पढ़िए...

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कानपुर रेल दुर्घटना की जांच के आदेश दिए

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top