दिवाली पर दुर्घटना से निपटने को अस्पताल रहेंगे अलर्ट 

दिवाली पर दुर्घटना से निपटने को अस्पताल रहेंगे अलर्ट gaonconnection

कानपुर (भाषा)। दीपावली की खुशियों में पटाखा जलाते समय होने वाली किसी भी दुर्घटना से निपटने और लोगों को वक्त पर समुचित इलाज मुहैया कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने व्यापक इंतजाम किए हैं। शहर के कई अस्पतालों में अतिरिक्त बिस्तरों की व्यवस्था की गई है तथा डयूटी डाक्टरों को 24 घंटे अस्पताल में रहने के निर्देश दिए गए हैं।

आज धनतेरस से लेकर दीपावली तक सभी सरकारी अस्पतालों में अतिरिक्त दवाओं के साथ चिकित्सकों और कर्मचारियों को भी तैनात किया गया है, यहीं नहीं निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स को भी सचेत रहने को कहा गया है।

मुख्य चिकित्साधिकरी (सीएमओ) डॉ आरपी यादव ने बताया कि धनतेरस से लेकर दीपावली तक शहर के बाजारों में भारी भीड़ होती है, इसके अलावा आतिशबाजी भी होती है, ऐसे में आग लगने की घटनाओं या बाजारों में भगदड़ मचने की आशंका को देखते हुए अस्पतालों में समुचित इंतजाम किए गए हैं।

शहर के सरकारी अस्पताल उर्सला में 20 अतिरिक्त बेड, केपीएम अस्पताल में 10 अतिरिक्त बेड, काशीराम ट्रामा सेंटर में 10 अतिरिक्त बेड तथा सभी सीएचसी में पांच अतिरिक्त बेड रखने को कहा गया है. अस्पतालों में सामान्य डाक्टरों के अलावा नेत्र रोग विशेषज्ञों का चौबीस घंटे तैनात किए जाने को कहा गया है क्योंकि अधिकतर शिकायतें पटाखे जलाते समय आंख में चोट लगने की आशंका रहती है।

इसके अलावा जहां जहां पटाखा बाजार लगे हैं या जिन बाजारों में भारी भीड होती है उन स्थानों पर एक एक एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड तैनाती की व्यवस्था की गयी है। यही नहीं शहर के सभी निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स में भी ईमेजेंसी के लिए एलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं।

Share it
Top