भारत में आलीशान कारों की मांग से ब्रिटेन से जेएलआर का निर्यात बढ़ा

भारत में आलीशान कारों की मांग से ब्रिटेन से जेएलआर का निर्यात बढ़ाभारत में आलीशान कारों की मांग से ब्रिटेन से जेएलआर का निर्यात बढ़ा।

लंदन (भाषा)। भारत में धनी खरीददारों का महंगी कारों के प्रति आकर्षण बढ़ने के साथ टाटा मोटर्स के स्वामित्व वाली ब्रिटेन स्थित कार विनिर्माता जगुआर लैंड रोवर (जेएलआर) का यहां से भारत के लिए निर्यात 2016 में 15.8 प्रतिशत बढ़ा।

अमेरिका के वाहन उद्योग के आंकड़ों के अनुसार ब्रिटेन की कारों के लिए भारत इस समय एशिया में आठवां सबसे बड़ा बाजार है। वहां भेजी जाने वाली कारों में जेएलआर की लैंड रोवर डिस्कवरी स्पोर्ट्स, रैंजर रोवर एवाक, जगुआर एक्सएफ, जगुआर एक्सई और जगुआर एफ-पेस पांच सबसे लोकप्रिय मॉडल रहे हैं।

ब्रिटेन में वाहन विनिर्माताओं और व्यापारियों के एक प्रमुख संगठन ‘सोसायटी ऑफ मोटर्स मैन्यूफैक्चरर्स एण्ड टे्रडर्स (एसएमएमटी) ने कहा कि पिछले साल ब्रिटेन के विनिर्माताओं के लिए 17 वर्ष की सबसे अच्छी मांग रही। इसमें भारत का भी बड़ा योगदान रहा। ‘भारत अब ब्रिटेन के कार निर्यातकों का आठवां सबसे बड़ा एशियाई बाजार है। वहां मांग तेजी से बढ़ रही है।

धनी खरीददार ब्रिटेन में बनी सभी नई प्रीमियम कारों की उपलब्धता का फायदा उठा रहे हैं। सोसायटी के अनुसार वर्ष 2016 में ब्रिटेन से भारत को 3,372 कारों का निर्यात किया गया जो 15.8 प्रतिशत वृद्धि दर्शाता है।

First Published: 2017-01-26 19:31:27.0

Share it
Share it
Share it
Top