कड़ाके की ठंड की चपेट में पहाड़ी इलाके, लेह में पारा सामान्य से 12 डिग्री नीचे पहुंचा, मैदानी इलाकों में भी असर

कड़ाके की ठंड की चपेट में पहाड़ी इलाके,  लेह में पारा सामान्य से 12 डिग्री नीचे पहुंचा, मैदानी इलाकों में भी असरसर्दी को देखते हुए कई राज्यों में स्कूलों के समय में बदलाव किया गया है। 

आईएएनएस/ गांव कनेक्शन नेटवर्क

श्रीनगर/ लखनऊ। जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में कड़ाके की ठंड़ पड़ रही है। जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में शनिवार रात को पारा लुढ़क 4.9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। ये इस मौसम की सबसे सर्द रात थी। इसी बीच लद्दाख के लेह में पारा शून्य से 12 डिग्री नीचे पहुंच गया है।

मौसम विभाग के अनुसार घाटी में तामपान में गिरावट जारी रहेगी। पहाड़ों पर लुढ़के पारे का असर मैदानी इलाकों में भी दिखाई पड़ रहा है। दिल्ली और लखनऊ में भी सर्दी का सितम जारी है। हालांकि पिछले कई लगातार खिल रही धूप के चलते गलन में राहत मिली है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखऩऊ में 6 दिसंबर को पारा न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया था। 6 दिसंबर को लखनऊ का अधिकतम तापमान 17.3 डिग्री सेल्सियस था जबकि न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रहा, वहीं तुलना में शिमला का अधिकतम तापमान 20.4 डिग्री सेल्सियस था जबकि न्यूनतम तापमान 11.2 डिग्री सेल्सियस रहा था।

घाटी में सर्दी को लेकर मौसम विभाग के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “श्रीनगर में शनिवार की रात इस मौसम की सबसे सर्द रात रही। यहां रविवार को न्यूनतम तापमान शून्य से 4.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। घाटी में अगले कुछ दिनों तक रात में आसमान साफ रहने का अनुमान है, जिससे न्यूनतम तापमान में और गिरावट आने के अनुमान हैं।”

उन्होंने बताया, "पहलगाम में रात का तापमान शून्य से 5.9 डिग्री सेल्सियस और गुलमर्ग में शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।" उन्होंने बताया, "लद्दाख क्षेत्र के लेह कस्बे में न्यूनतम तापमान शून्य से 12 डिग्री सेल्सियस और कारगिल में शून्य से 9.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।" अधिकारी के अनुसार, "जम्मू शहर में न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस, कटरा में 8.2 डिग्री सेल्सियस, बनिहाल में 0.5 डिग्री सेल्सियस, बटोट में 4.8 डिग्री सेल्सियस और भरदवाह में 0.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।"

मैदानी इलाकों में कोहरे का कहर जारी है। दिल्ली, यूपी, हरियाणा और बिहार समेत कई राज्यों में कोहरे का असर हवाई और सड़क यातायात पर पड़ा है। 60 से ज्यादा ट्रेने कैसिंल चल रही हैं तो लगभग दिल्ली को आने-जाने वाली सभी ट्रेनों घंटों लेट हैं। हवाई यातायात भी कोहरे के चलते प्रभावित हो रहा है।

Share it
Share it
Share it
Top