भोपाल मुठभेड़: एक महीने बाद ही थी शहीद हेड कांस्टेबल रमाशंकर की बेटी की शादी

भोपाल मुठभेड़: एक महीने बाद ही थी शहीद हेड कांस्टेबल रमाशंकर की बेटी की शादीशहीद हेड कांस्टेबल रमाशंकर यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ। भोपाल की सेंट्रल जेल से भाग रहे सिमी आतंकियों से अकेले ही भिड़ गए हेड कांस्टेबल रमाशंकर यादव अगले ही महीने अपनी बेटी की शादी कराने जा रहे थे।

मंगलवार को उनकी अंतिम यात्रा को कंधा देने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पहुंचे।

आतंकियों ने यादव द्वारा रोके जाने पर उन्हें घेर का गला रेतकर मारा डाला था और फरार हो गए।

पिता की मृत्यु की खबर सुनकर बेटी बोल पड़ी ‘अब कौन मेरा कन्यादान करेगा… कौन मुझे दुल्हन बने देखकर खुश होगा…’। रमाशंकर यादव दिसंबर में अपनी बेटी की शादी करने वाले थे लेकिन शादी के सिर्फ 40 दिन पहले ही उनकी मौत से पूरा परिवार सदमे में है।

रमाशंकर के छोटे भाई राजकुमार यादव ने बताया कि 9 दिसंबर को शादी थी।

रमाशंकर यादव यूपी में बलिया जिले के राजपुर गाँव के रहने वाले थे। पूरा गांव शोक में है, जिसको पता लग रहा है वो रमाशंकर के घर पहुंच रहा है। रमाशंकर का परिवार जेल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगा रहा है।

Share it
Share it
Share it
Top