ठंड से कांपती कश्मीर घाटी में बारिश की संभावना

ठंड से कांपती कश्मीर घाटी में बारिश की संभावनाकश्मीर की घाटी में हिमपात का अनुमान

श्रीनगर (भाषा)। कश्मीर घाटी में अगले छह दिनों तक बारिश और हिमपात होने के अनुमान के बीच आज पूरे इलाके में ठंड का कहर जारी रहा। इस बीच संभागीय प्रशासन ने आवश्यक एहतियाती कदम उठाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मौसम विभाग ने कहीं-कहीं बारिश और बर्फबारी होने के साथ भी छिटपुट बारिश तथा हिमपात का पूर्वानुमान लगाया है। विभाग ने 23 जनवरी को सभी जगह बारिश अथवा बर्फबारी होने के साथ 24 से लेकर 26 जनवरी तक भी इसी तरह के मौसम का पूर्वानुमान जताया है।

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को इस क्षेत्र में एक बार फिर पश्चिमी विक्षोभ का असर हो सकता है। लगभग एक सप्ताह तक बारिश की संभावना के बीच संभागीय प्रशासन ने ऐहतियातन उपायों को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये हैं।

एक अधिकारिक प्रवक्ता ने आज बताया, ‘‘कश्मीर के संभागीय प्रशासन के एक बयान के मुताबिक मौसम संबंधी पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए कश्मीर के सभी उपायुक्तों को अपने-अपने जिलों में जरुरी ऐहतियाती कदम उठाने के लिए कहा गया है।'' कश्मीर में इन दिनों सर्वाधिक जाड़े का दौर ‘‘चिल्लई कलां'' है जब हिमपात की संभावना सर्वाधिक होती है। पूरे घाटी और लद्दाख क्षेत्र में रात का तापमान शून्य डिग्री से नीचे चल रहा है।

मौसम अधिकारी ने बताया कि श्रीनगर का न्यूनतम तापमान पिछली रात की तुलना में दो डिग्री गिरकर शून्य से 3.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

उन्होंने बताया कि दक्षिण कश्मीर के पहलगाम के प्रसिद्ध स्वास्थ्य रिसॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

अधिकारी ने बताया कि गुलमर्ग के स्काई-रिसॉर्ट का न्यूनतम तापमान शून्य से 10 डिग्री कम दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि रिसॉर्ट पूरे घाटी में सबसे ठंडी जगह रही।


Share it
Top