विदेश मंत्रालय एवं डाक विभाग ने मिलाया हाथ, पासपोर्ट मिलना होगा आसान

विदेश मंत्रालय एवं डाक विभाग ने मिलाया हाथ, पासपोर्ट मिलना होगा आसानप्रतीकात्मक फोटो।

नई दिल्ली (भाषा)। देश में खासकर भीतरी इलाकों में पासपोर्ट प्राप्त करना अब पहले से आसान होगा क्योंकि इस प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए विदेश मंत्रालय एवं डाक विभाग ने हाथ मिलाया है।

सरकार ने देश में 40 डाकघरों को छांटा है जिनका प्रयोग पासपोर्ट प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है। ये डाकघर पासपोर्ट प्राप्त करने के लिए मौजूदा क्षमता के अतिरिक्त एकल बिंदु केंद्र के तौर पर सेवाएं देंगे।

विदेश मंत्रालय एवं डाक विभाग के बीच यह प्रायोगिक परियोजना कर्नाटक के मैसूर एवं गुजरात के दाहोद में कल शुरु होगी।

संचार मंत्रालय में राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा, ‘‘यह सेवा चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी और हमने पहले चरण में 40 डाकघरों को चुना है। हम इसे अधिकतम जिलों में लेकर जाएंगे। डाक विभाग के अधिकारियों को संबंधित प्रक्रिया के बारे में विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा।''

हालांकि सिन्हा ने केंद्रों के नाम बताने से इनकार कर दिया क्योंकि इनमें से कुछ केंद्र उन राज्यों में हैं जहां चुनाव होने हैं और इसका प्रचार करना आचार संहिता का उल्लंघन होगा।

विदेश मंत्रालय में राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा, ‘‘इस बात की मांग की जा रही थी कि अधिक केंद्र खोले जाएं जहां पासपोर्ट मिल सकें ताकि लोगों को अधिक दूर नहीं जाना पड़े।''

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्य हर जिले में मुख्य डाकघरों में ऐसी सेवा शुरू करना है ताकि लोगों को पासपोर्ट प्राप्त करने के लिए ज्यादा दूर नहीं जाना पड़े।''

Share it
Share it
Share it
Top