मोदी सरकार में क्लर्क भर्ती में इंटरव्यू बंद, योगी सरकार कर रही साक्षात्कार की तैयारी

मोदी सरकार में क्लर्क भर्ती में इंटरव्यू बंद, योगी सरकार कर रही साक्षात्कार की तैयारीउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी।

लखनऊ। भाजपा सरकार सरकार बहुत जल्द ही समूह ग और समूह घ वर्ग में साक्षात्कार बंद करने की तैयारी में है जबकि उप्र अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड ने करीब 6000 बाबुओं के लिए इंटरव्यू की तिथि घोषित कर दी है। इंटरव्यू के दौरान होने वाले तमाम घालमेल को रोकने के लिए केंद्र की भाजपा सरकार ने इनको बंद कर दिया है, जबकि प्रदेश में भी बंद करने के नाम पर युवाओं ने भाजपा को वोट दिया है।

इसके बावजूद अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड के अफसर आनन फानन में परीक्षाओं को कराने की तैयारी में हैं। जिनके लिए 27 मार्च से 10 अप्रैल तक तीन तिथियों में इंटरव्यू लेने की तैयारी है। दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी कर ओर से स्पष्ट कर दिया गया है, यूपी पबल्कि कमीशन में इंटरव्यू पर रोक लगा दी गई है। ऐसे ही यूपीएसएसएसई में भी इस तरह के साक्षात्कार तत्काल रोके जाएंगे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव से पहले अपनी जनसभाओं में ये बात कहा करते थे कि बाबू और चपरासी की नौकरी के लिए इंटरव्यू भ्रष्टाचार का जरिया है। इसकी कोई जरूरत नहीं है। भाजपा की सरकार जैसे ही आएगी साक्षात्कार बंद कर दिये जाएंगे। इसी संबंध में सरकार की ओर से मंगलवार को बाकायदा आदेश जारी किया गया कि यूपीएससी में साक्षात्कार न लिये जायें और भर्ती की सभी प्रक्रियाएं तत्काल रोक दी जाएं। मगर समूह ग स्तर से भर्ती करने वाले दूसरे आयोग यूपीएसएसएसई में ऐसी कोई रोक नहीं लगाई गई है।

सात महीने पुरानी प्रक्रिया में अब होने जा रहे 5937 साक्षात्कार

यूपीएसएसएसई के जरिए 5937 कनिष्ठ सहायकों की भर्ती जुलाई 2016 में निकाली गई थी। जिसमें सबसे पहले लिखित, उसके बाद कंप्यूटर टाइपिंग और आखिर में इंटरव्यू का प्राविधान है। आचार संहिता लगने के बाद लंबे समय तक ये प्रक्रिया रुकी रही। आखिरकार जैसे ही आचार संहिता हटी वैसे ही इंटरव्यू की प्रक्रिया को दोबारा शुरू कर दिया गया है। यूपीएसएसएसई की वेबसाइट http://upsssc.gov.in/

पर इस आशय की जानकारी डाल दी गई है। जिसमें स्पष्ट है कि, कनिष्ठ सहायक पद के लिए अभ्यर्थियों के साक्षात्कार 27 मार्च, तीन और चार अप्रैल को होंगे। अभर्ग्थियों को स्पष्ट किया गया है कि इन तिथियों पर वे आयोग में अपनी पत्रावलियों के साथ पहुंचे। इनके अलावा दो अन्य पद ग्राम विकास अधिकारी, सहायक लेखाकार और लेखापरीक्षक के लिए भी साक्षात्कार की तिथियां अप्रैल और जुलाई के लिए तय कर दी गई हैं। वेबसाइट पर इस आशय की जानकारी लिंक http://upsssc.gov.in/View_Notices.aspx?ID=news&N=525 पर दी गई हैं। जिनको कोई भी खोलकर देख सकता है।

भाजपा का दावा, इन भर्तियों की होगी जांच

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी का कहना है कि, “यूपी पब्लिक कमीशन में इस तरह की भर्ती रोकी जा चुकी है। समूह ग में तो किसी भी हाल में इंटरव्यू के तहत भर्ती नहीं की जाएंगी। इसको लेकर सरकार तक बात पहुंचाई जाएगी। इन हजारों भर्ती में हुई गड़बड़ी की जांच होगी।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top