सांसद ई. अहमद के निधन के बाद एक दिन के लिए टल सकता है बजट 

सांसद ई. अहमद के निधन के बाद एक दिन के लिए टल सकता है बजट वित्तमंत्री अरुण जेटली राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना हो गए हैं। लेकिन, केरल के वरिष्ठ सांसद ई. अहमद के निधन के बाद आज बजट पेश होने को लेकर सस्पेंस बना हुआ है।

नई दिल्ली। आज बजट पेश होने वाला है वित्तमंत्री अरुण जेटली राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना हो गए हैं। इसके बाद बजट के आज ही पेश होने की उम्मीद बढ़ गई है। लेकिन, केरल के वरिष्ठ सांसद ई. अहमद के निधन के बाद आज बजट पेश होने को लेकर सस्पेंस बना हुआ है।

वित्तराज्य मंत्री संतोष गंगवार का कहना है कि एक दिन के लिए बजट टल सकता है, इस पर अंतिम फैसला स्पीकर लेंगी। आम तौर पर संसद के मौजूदा सदस्य के निधन के बाद संसद को दिनभर के लिए स्थगित कर दिया जाता है।

ई अहमद को मंगलवार को दोपहर में संसद के सेंट्रल हाल में राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद उन्हें राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया था। रात में सवा दो बजे उनका देहावसान हो गया। अस्पताल प्रशासन ने देर रात में उनके निधन की घोषणा की और उनकी देह उनके परिजनों को सौंप दी। केरल की मलप्पुरम लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले अहमद पिछली संप्रग सरकार में विदेश राज्य मंत्री थे।

वित्तमंत्री का यह चौथा बजट है। वित्तमंत्री से उम्मीदों के चलते आज शेयर बाजार में तेजी के साथ खुले हैं। नोटबंदी के बाद इस बजट से काफी उम्मीदें हैं। माना जा रहा है कि सरकार इस बजट में मध्य वर्ग को राहत देने के लिए इनकम टैक्स में छूट की मौजूदा सीमा को 2.5 लाख रुपये से बढ़ाकर तीन लाख रुपये कर सकती है। साथ ही 80 सी के तहत 1.5 लाख रुपये और नेशनल पेंशन स्कीम के तहत 2 लाख रुपये की छूट की सीमा को बढ़ाकर 2 लाख और 2.5 रुपये करने की उम्मीद की जा रही है। साथ ही होम लोन पर मिलनेवाली छूट भी 2 लाख से बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये की जा सकती है। इसके आलावा किसानों, गरीबों और महिलाओं के लिए भी बड़े ऐलान संभव हैं।

Share it
Top