अस्पतालों और स्टेंट आपूर्तिकर्ताओं पर अधिक शुल्क लेने पर होगी कार्रवाई : अनंत कुमार

अस्पतालों और स्टेंट आपूर्तिकर्ताओं पर अधिक शुल्क लेने पर होगी कार्रवाई : अनंत कुमारमहंगा स्टेंट बेचने पर सरकार करेंगी कार्रवाई- केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने दी जानकारी।

मुंबई (भाषा)। केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने आज यहां कहा कि अस्पतालों और स्टेंट आपूर्ति करने वाले अगर मरीजों से अधिक शुल्क वसूूल करते हुए पाए गए तो उनका लाइसेंस निलंबित करने सहित उन्हें कानूनी कार्रवाई का भी सामना करना पड़ेगा।

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने आज यहां पर कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने स्टेंट मेंं 85 प्रतिशत की कमी की है और हर किसी को इसका पालन करना चाहिए। जो नियमों का उल्लंघन करते हुए पाए जाएंगे उनके लाइसेंस निलंबित किये जाने सहित कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।''

मंत्री 21 फरवरी को वृहन्नमुंबई नगर निगम (बीएमसी) चुनाव से पहले भाजपा के प्रचार के लिए मुंबई में प्रचार कर रहे थे। संसदीय मामलों, रासायनिक एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार ने कहा, ‘‘संस्थानों और स्टेंट आपूर्तिकर्ताओं को नए शुल्कों का पालन करने में कुछ दिन का समय लगेगा लेकिन हम अब इसे वापस नहीं लेंगे।''

स्टेंट की कीमत।

जानबूझ कर स्टेंट की कमी दिखाने पर सरकार करेगी कड़ी कार्रवाई

सरकार ने आज कहा कि वह कुछ कंपनियों पर नजर रख रही है जो जीवन रक्षक कोरोनरी स्टेंट्स की कृत्रिम कमी पैदा करने की कोशिश कर रही हैं और इस तरह के अनैतिक कार्यों में लिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

हृदय को रक्त पहुंचाने वाली धमनियों में लगाए जाने वाले ट्यूब के आकार के यंत्र को कोरोनरी स्टेंट कहते है जो कोरोनरी दिल की बीमारियों के इलाज में धमनियों को खुला रखता है।

सरकार ने स्टेंट के मूल्यों में 85 फीसदी तक की कटौती की थी जिसके बाद ऐसी खबरें आ रही हैं कि अस्पताल में स्टेंट्स की कमी हो गई है।

राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए), ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) के साथ-साथ स्वास्थ्य मंत्रालय से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया था कि मूल्य की निर्धारित उच्च दर का पालन किया जाए और बाजार में जल्द से जल्द कोरोनरी स्टेंट्स की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए।

एनपीपीए के सचिव जयप्रिय प्रकाश ने कहा, ‘‘उन सभी पर नजर रख रहे हैं जो निश्चित मूल्यों आदि का पालन न करके स्टेंट की कृत्रिम कमी पैदा करने जैसे अनैतिक कार्यों में लिप्त हैं, ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।''

First Published: 2017-02-18 19:51:26.0

Share it
Share it
Share it
Top