मिस्त्री को हटाया जाना सैद्धान्तिक रूप से गलत: सुप्रिया सुले  

मिस्त्री को हटाया जाना सैद्धान्तिक रूप से गलत: सुप्रिया सुले   राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) की सांसद सुप्रिया सुले।

मुंबई (भाषा)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) की सांसद सुप्रिया सुले ने आज कहा कि साइरस मिस्त्री को जिस तरीके से टाटा संस के चेयरमैन पद से हटाया गया, वह सैद्धान्तिक रुप से गलत है।

उन्होंने कहा, ‘‘टाटा समूह की कंपनियां सार्वजनिक रुप से सूचीबद्ध कंपनियां हैं और सभी फैसले पारदर्शी तरीके से लिए जाने चाहिए। कुछ मतभेद हो सकते हैं और बोर्ड के पास जो कदम उठाया गया है, वह उठाने का अधिकार है लेकिन इस मुद्दे पर जिस तरीके से काम किया गया, उस पर मुझे आपत्ति है।''

बारामती से सांसद और राकांपा प्रमुख शरद पवार की पुत्री सुले ने कहा, ‘‘मेरा मानना है जो किया गया है वह सैद्धान्तिक रुप से गलत है] इसे सम्मानित तरीके से किया जाना चाहिए था।'' सुले को मिस्त्री और उनकी पत्नी रोहिका का नजदीकी मित्र माना जाता है।

मिस्त्री की पारिवारिक कंपनी शापोरजी पल्लोनजी निर्माण क्षेत्र की दिग्गज कंपनी है। यह टाटा समूह के सबसे बडे शेयरधारकों में से है। मिस्त्री को सोमवार को अचानक टाटा समूह के चेयरमैन पद से हटा दिया गया और उनके स्थान पर स्थानीय नियुक्ति होने तक रतन टाटा को चार माह के लिए अंतरिम चेयरमैन बना दिया गया।


Share it
Top