राष्ट्रपति ने नोटबंदी का जिक्र किया, विपक्ष ने दिखाई बेरुखी दिखाई 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   31 Jan 2017 4:32 PM GMT

राष्ट्रपति ने नोटबंदी का जिक्र किया, विपक्ष ने दिखाई बेरुखी दिखाई संसद के संयुक्त सत्र में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का स्वागत करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।

नई दिल्ली (भाषा)। संसद के संयुक्त सत्र में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अभिभाषण में नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक के उल्लेख का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत राजग सदस्यों ने मेज थपथपा का स्वागत किया, वहीं विपक्षी सदस्य इससे अप्रभावित नजर आ रहे थे और उन्होंने मेजें नहीं थपथपाई।

प्रणब मुखर्जी ने अपने अभिभाषण में कालाधन पर लगाम लगाने की सरकार की पहल और गरीब कल्याण योजना का जिक्र किया तब भी सत्तारुढ़ राजग के सदस्यों ने इसका मेज थपथपा कर स्वागत किया. लेकिन उस समय भी विपक्षी सदस्यों ने इस पर बेरुखी दिखाई। हालांकि, जब राष्ट्रपति ने ‘नारी शक्ति' और रियो आलंपिक खेलों में एथलीटों के शानदार प्रदर्शन तथा भारतीय वायु सेना में महिला फाइटर पायलटों को शामिल किए जाने का उल्लेख किया तब सत्तापक्ष के साथ विपक्षी सदस्यों ने इसकी सराहना की।

पूर्व के मौकों की विपरीत इस बार संसद के केंद्रीय कक्ष में कई सीटें खाली थी, पहले दोनों सदनों की संयुक्त बैठक के दौरान सदस्यों को स्थान देने के लिए अतिरिक्त कुर्सियां लगानी पड़ती थी। लेकिन इस बार उपस्थिति अपेक्षाकृत कम रही, अभिभाषण के दौरान तृणमूल कांग्रेस के सांसद अनुपस्थित थे. तृणमूल कांग्रेस ने घोषणा की थी कि वे एक फरवरी तक सत्र की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे।

करीब एक घंटे तक चले राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान कई सदस्यों को अपने मोबाइल फोन से फोटो खींचते देखा गया जबकि कांग्रेस के आनंद शर्मा, सपा के रामगोपाल यादव, माकपा के सीताराम येचुरी को कुछ देर बातचीत करते देखा गया।

अभिभाषण शुरू होने से पहले अगली पंक्ति में बैठी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को कुछ देर तक बात करते देखा गया। आडवाणी के बगल में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एच डी देवेगौडा बैठे थे।

अगली कतार में प्रधानमंत्री के बगल में वित्त मंत्री अरुण जेटली और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद बैठे थे। राष्ट्रपति ने जैसे ही अभिभाषण शुरू किया, वैसे ही द्रमुक के तिरुचि शिवा तमिलनाडु में किसानों की आत्महत्या की बात कहते सुने गए।

जब उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने अभिभाषण का पहला और अंतिम पैराग्राफ हिन्दी में पढ़ रहे थे तब सपा नेता मुलायम सिंह यादव को कक्ष से बाहर जाते देखा गया। राष्ट्रगान के समय भी यादव ने चलकर बाहर जाना जारी रखा। जब सदस्य केंद्रीय कक्ष से बाहर जा रहे थे तब कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडगे और संसदीय कार्य राज्य मंत्री एसएस अहलुवालिया से बात करते देखे गए।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top