तंबाकू विनिर्माण में लगी कंपनियों में निवेश ना करें सरकारी संस्थान : स्वास्थ्य मंत्रालय  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   5 Nov 2016 4:46 PM GMT

तंबाकू विनिर्माण में लगी कंपनियों में निवेश ना करें सरकारी संस्थान : स्वास्थ्य मंत्रालय  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा।

नई दिल्ली (भाषा)। भारत में अगले सप्ताह पहली बार होने जा रहे एक अंतरराष्ट्रीय तम्बाकू सम्मेलन से पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय को एक पत्र लिखकर कहा है कि वह सरकारी संस्थानों को निर्देश दे कि वे तंबाकू विनिर्माण में लगी कंपनियों में निवेश नहीं करे।

भारत में सात से 12 नवंबर के बीच ग्रेटर नोएडा में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की तंबाकू नियंत्रण रुपरेखा संधि (एफसीटीसी) की सातवें दौर की बैठक (कोप-7) होने जा रही है। इस सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा करेंगे।

सम्मेलन में धुंआ रहित तंबाकू को भी एजेंडा में शामिल किए जाने के भारत के निर्णय के बाद यह कदम उठाया गया है. भारत में बडे पैमाने पर लोग धुंआ रहित तंबाकू जैसे दूसरे विकल्प अपना रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्रालय को एक पत्र भेजा गया है जिसमें तंबाकू उत्पादों के विनिर्माण कार्य में लगी कंपनियों में निवेश नहीं करने का निर्देश देेने की बात कही गई है। सम्मेलन में दुनियाभर के 180 देशों के करीब 1,500 प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top