एनडीटीवी इंडिया पर बैन: कांग्रेस ने कहा सरकार के कदम से आ रही धौंसपट्टी की बू

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   4 Nov 2016 6:16 PM GMT

एनडीटीवी इंडिया पर बैन: कांग्रेस ने कहा सरकार के कदम से आ रही धौंसपट्टी की बूकांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी।

नई दिल्ली (भाषा)। एक हिंदी चैनल एनडीटीवी इंडिया पर एक दिन के लिए लगाए गए प्रतिबंध को लेकर आज कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और यह आरोप लगाया कि सरकार की कार्रवाई से निरंकुशता और धौंसपट्टी की बू आ रही है। पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस प्रतिबंध को ‘‘स्तब्ध करने वाला और अभूतपूर्व'' करार दिया है। पार्टी के नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि सभी अखबारों और चैनलों को ‘‘साहस दिखाना'' चाहिए और अपना विरोध दर्ज कराने के लिए नौ नवंबर को ‘‘प्रसारण और प्रकाशन नहीं करना चाहिए।''

कांग्रेस के उपाध्यक्ष ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘विपक्षी नेताओं को हिरासत में लेना, टीवी चैनलों को ब्लैक आउट कर देना-मोदी जी के भारत में यह सब एक दिन में कर दिया गया।'' राहुल ने ट्विटर पर कहा, ‘‘एनडीटीवी को प्रतिबंधित किया जाना स्तब्ध करने वाला और अभूतपूर्व।''

कांग्रेस के कई नेताओं ने चैनल का प्रसारण रोके जाने के मुद्दे पर सरकार पर हमला बोला और पूछा कि क्या मोदी ने इन्हीं ‘‘अच्छे दिनों'' का वादा किया था?

गुजरात शासन मॉडल ने अपना असली चेहरा दिखाना शुरू कर दिया है : दिग्विजय

दिग्विजय सिंह ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कहा, ‘‘भाजपा के सुशासन के यह मॉडल और मीडिया नियंत्रण की उनकी विशेषज्ञता की यह शुरुआत भर है।''

मोदी के गुजरात शासन मॉडल ने अपना असली चेहरा दिखाना शुरू कर दिया है, पहले किसान, फिर मजदूर, फिर व्यापारी, फिर जवान और अब मीडिया। बाद में न कहना कि मैंने आपको चेताया नहीं था। आपको लग सकता है कि मैं ऐसा क्यों बोल रहा हूं लेकिन मैं इन लोगों को आपसे अच्छी तरह जानता हूं। शुभकामनाएं।’’
दिग्विजय सिंह कांग्रेस नेता

दिग्विजय ने ‘‘फर्स्ट दे केम'' नामक एक छोटा सा नोट भी डाला और सभी को पादरी मार्टिन निमोलर का मशहूर बयान ‘‘फर्स्ट दे केम'' देखने के लिए कहा जो नाजियों के उदय के बाद जर्मन बुद्धिजीवियों के दब्बूपन के बारे में है।

उन्होंने इस नोट के साथ कहा, ‘‘मीडियाकर्मियों, मेरी शुभकामनाओं के साथ इतिहास से सीख लें वरना आप जानते हैं कि इसमें आपके लिए क्या छिपा हुआ है।''

सिंह ने इस बात पर भी संदेह जताया कि क्या मीडिया घराने चैनल के खिलाफ आए इस आदेश के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे या नहीं? उन्होंने कहा, ‘‘क्या वे भी साहस दिखाएंगे और नौ नवंबर को प्रसारण बंद करेंगे और अखबार नहीं छापेंगे?'' उन्होंने कहा, ‘‘मुझे यकीन है कि वे ऐसा नहीं करेंगे। ईश्वर उन्हें साहस दे।''

धौंसपट्टी की बू आ रही है : अहमद पटेल

कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा, ‘‘एनडीटीवी इंडिया पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के फैसले में निरंकुशता और धौंसपट्टी की बू आ रही है।''

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर कहा, ‘‘निरंकुशता का संकेत तब मिलता है, जब राजनीतिक नेताओं को पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिया जाता है और खबरिया चैनलों को प्रतिबंधित कर दिया जाता है, मोदी जी अगली बार कौन से अधिकारों पर चोट करेंगे?''


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top