पंडित दीनदयाल उपाध्याय, नानाजी देशमुख जन्मशती पर चित्रकूट में 24 फरवरी से चार दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन  

पंडित दीनदयाल उपाध्याय, नानाजी देशमुख जन्मशती पर चित्रकूट में 24 फरवरी से चार दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन  इंटरनेट साभार।

नई दिल्ली (भाषा)। गाँव एवं ग्रामीण क्षेत्र के विकास, स्वच्छता, रोजगार विषय पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं नानाजी देशमुख के जन्मशताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में चित्रकूट में 24 फरवरी से चार दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें आठ राज्यों के ग्रामीण विकास मंत्री, पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री हिस्सा लेंगे।

दीनदयाल शोध संस्थान, चित्रकूट की विज्ञप्ति के अनुसार, इसके अलावा 28 फरवरी से 1 मार्च के बीच देश के सभी राज्यों के ग्रामीण विकास विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक हो रही है, जिसमें नानाजी देशमुख और दीनदयाल शोध संस्थान के जरिए वनवासी क्षेत्र के पिछड़े इलाकों में शामिल चित्रकूट में ग्रामीण विकास के मॉडल से रुबरु होंगे।

24 फरवरी को सम्मेलन के उद्घाटन कार्यक्रम में केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह और बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद शामिल होंगे।

सम्मेलन के दौरान ‘स्वस्थ पशु स्वस्थ शिशु' विषय पर परिचर्चा सत्र का आयोजन किया जाएगा जिसमें ग्रामीण स्वास्थ्य व्यवस्था पर चर्चा होगी।

25 फरवरी को केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी तथा कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री राजीव प्रताव रुडी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और सुदर्शन भगत हिस्सा लेंगे।

26 फरवरी को इसमें ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और 27 फरवरी को आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हिस्सा लेंगे।

Share it
Top