विपक्ष को अगर 72 घंटे का मौका मिलता तो नोटबंदी की वो वाहवाही करते : मोदी

विपक्ष को अगर 72 घंटे का मौका मिलता तो नोटबंदी की वो वाहवाही करते : मोदीप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।

नई दिल्ली। नोटबंदी के मामले पर विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि जो लोग सरकार पर नोटबंदी के लिए तैयारी नहीं करने का आरोप लगा रहे हैं, वे खुद इस कदम के लिए तैयार नहीं थे। नोटंबदी पर हंगामे के बाद आज फिर लोकसभा व राज्यसभा 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। प्रधानमंत्री मोदी के बयान पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी कहा कहा दाल में कुछ काला है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक संविधान दिवस समारोह पर एक पुस्तक विमोचन के विमोचन कार्यक्रम में कहा कि नोटबंदी से विपक्षी पार्टियां इसलिए नाराज हैं कि उनको अपना काला धन ठिकाना लगाने को मौका नहीं मिला। अगर उन्हें 72 घंटेका समय मिला जाता तो वह भी आज नोटबंदी कार्यक्रम की प्रशंसा में शामिल होते।

देखे विडियो:-


नोटबंदी का आज 17वां दिन है। 24 नवंबर की आधी रात से 500 रुपए तथा 1,000 रुपए के नोटों को अब बैंकों में जाकर बदला नहीं जा सकेगा।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि आदमी भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ सैनिक बन चुका है। भ्रष्टाचार को लेकर भारत की स्थिति अक्सर खराब बताई जाती है, हमें इसमें सुधार करने की जरुरत है।

नोटंबदी पर आज फिर लोकसभा व राज्यसभा में हंगामा मचा हुआ है। राज्यसभा में नोटबंदी पर विपक्षी पार्टियां नोरबाजी कर हंगामा मचा रही हैं। विपक्षी पार्टियों का कहना है जब संसद में शीतकालीन सत्र चल रहा है तो प्रधानमंत्री मोदी को सदन के बाहर बयान देने की क्या जरूरत है। यह अपराध है। विपक्षी पार्टी के सदस्यों की मांग है कि प्रधानमंत्री मोदी राज्यसभा में आकर माफी मांगे और नोटबंदी पर सदन में आकर जबाब दें। हंगामे और नोरबाजी के बीच लोकसभा व राज्यसभा 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

प्रधानमंत्री के बयान पर मायावती ने कहा दाल में जरूर कुछ काला है। प्रधानमंत्री बाहर नोटबदी पर बयान देते और विपक्ष को भ्रष्ट कहते हैं पर संसद में बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं।




Share it
Top