तस्वीरों में देखिए राष्ट्रपति भवन के मुगल गार्डन में फूलों की मनमोहक छटा

तस्वीरों में देखिए राष्ट्रपति भवन के मुगल गार्डन में फूलों की मनमोहक छटाराष्ट्रपति भवन में स्थित मुगल गार्डन दर्शकों के लिए खोल दिया गया है। मुख्य मुगल गार्डन के अलावा अन्य उद्यान पांच फरवरी से 12 मार्च तक सुबह साढ़े नौ बजे से शाम चार बजे तक आम जनता के लिए खुलेंगे। केवल सोमवार को मुगल गार्डन बंद रहेगा। मुगल गार्डन में राष्ट्रपति, उनकी पत्नी के नाम पर इस बार गुलाब प्रदर्शित होंगे।

नई दिल्ली (आईएएनएस)| राष्ट्रपति भवन में स्थित मुगल गार्डन दर्शकों के लिए खोल दिया गया है। मुगल गार्डन आम जनता के लिए पांच फरवरी से 12 मार्च (सोमवार को छोड़कर जोकि रखरखाव दिवस है) तक सुबह साढ़े नौ बजे से शाम चार बजे तक खुला रहेगा। अस प्रकार राष्ट्रपति भवन का वार्षिक ‘उद्यानोत्सव’ शुरू हुआ।

इस दौरान लोग स्प्रिचुअल गार्डन, हर्बल गार्डन, बोनसाई गार्डन एवं म्यूजिकल गार्डन का आनंद भी उठा सकेंगे। इस अवधि के दौरान उद्यानों का भ्रमण करने के लिए कोई ऑनलाइन बुकिंग नहीं होगी।

राष्ट्रपति भवन के प्रसिद्ध मुगल गार्डन में इस बार राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और उनकी पत्नी शुभ्रा मुखर्जी के नाम पर विशेष गुलाब रोपा गया। जिसे ध्यान देखते राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी।

राष्ट्रपति भवन के प्रसिद्ध मुगल गार्डन में इस वर्ष राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और उनकी पत्नी शुभ्रा मुखर्जी के नाम पर विशेष गुलाब प्रदर्शित किए गए हैं। ऐसा पहली बार है जब एक विशेष गुलाब का नाम राष्ट्रपति के नाम पर रखा गया है। मुखर्जी के नाम पर जिस गुलाब का नाम रखा गया है उसका रंग पीला है। वहीं उनकी पत्नी के नाम पर जिस गुलाब का नाम रखा गया है उसका रंग गुलाबी-बैंगनी है।

पहली बार दो नए गुलाबों को प्रदर्शित किया गया है जिनका नाम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और उनकी दिवंगत पत्नी शुभ्रा मुखर्जी के नाम पर रखा गया है। विशेष गुलाबों को पश्चिम बंगाल, जकपुर के पुष्पांजलि गुलाब नर्सरी के विशेषज्ञों ने तैयार किया है। नर्सरी ने इन दो किस्मों को जारी करने के लिए ‘इंडियन रोज फेडरेशन’ से सम्पर्क किया था। इंडियन रोज फेडरेशन ने इसे मंजूर किया और किस्मों को पश्चिम बंगाल में एक ‘रोज शो’ के दौरान जारी किया।
वेणु राजमणि सचिव राष्ट्रपति

मुख्य मुगल गार्डन में जो गुलाब प्रदर्शित किए गए हैं वे अभी तक खिले नहीं हैं लेकिन अधिकारियों को उम्मीद है कि वे 12 मार्च को गार्डन के बंद होने से पहले खिल जाएंगे।

राष्ट्रपति सचिवालय से जारी बयान के अनुसार, आम जनता के लिए प्रवेश तथा निकास नॉर्थ एवन्यू के समीप प्रेसिडेंट एस्टेट के गेट नंबर 35 से होगा। आगंतुकों से पानी की बोतल, ब्रीफकेस, हैंडबैग/लेडीज पर्स, कैमरा, रेडियो/ट्रांजिस्टर, बक्से, छाता, खाद्य सामग्री नहीं लाने को कहा गया है।

मधुमक्खी गुलाब से रस लेती हुई।

ऐसी वस्तुएं लाने पर उन्हें प्रवेश बिंदु पर जमा कर दिया जाएगा। बहरहाल, गार्डन का भ्रमण करने के लिए आने वाले लोगों के लिए पीने के पानी, शौचालय, प्राथमिक चिकित्सा/चिकित्सकीय सुविधा, वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं तथा बच्चों के लिए विश्राम कक्ष की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।

मुगल गार्डन में खिले हुए फूलों की सुन्दरता देख राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के चेहरे पर आई खुशी।

मुगल गार्डन विशिष्ट रूप से किसानों, दिव्यांगों, सैन्य/अर्धसैन्य बलों तथा दिल्ली पुलिस के जवानों जैसे विशेष वर्ग के आगंतुकों के लिए 10 मार्च को सुबह साढ़े नौ बजे से शाम चार बजे तक खुला रहेगा। प्रवेश तथा निकास गेट नंबर 35 के जरिए होगा।

मुगल गार्डन में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ।

टेक्टाइल गार्डन 10 मार्च को 11 बजे से शाम चार बजे तक दृष्टिबाधित लोगों के लिए खुला रहेगा। प्रवेश तथा निकास चर्च रोड पर स्थित गेट नंबर 12 से होगा।

अपने स्टॉफ और अतिथियों संग मुगल गार्डन में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ।
मुगल गार्डन में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ।
फूलों से उद्यान की दीवारों पर ‘इंडिया’ और ‘जयहिंद’ उत्कीर्ण किया गया।

इसके अलावा उद्यानोत्सव 2017 की अन्य विशेषताओं में विशेष थीम आधारित उर्ध्वाधर उद्यान और हवा शुद्ध करने वाले पौधों का प्रदर्शन शामिल है। उद्यान की दीवारों पर ‘इंडिया' और ‘जयहिंद' उत्कीर्ण करने के लिए विभिन्न तरह के फूल वाले पौधे एवं अन्य पौधों का इस्तेमाल किया गया है।

मुगल गार्डन में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी।
राष्ट्रपति भवन के प्रसिद्ध मुगल गार्डन में फुल ब्लूम।
राष्ट्रपति भवन का वार्षिक ‘उद्यानोत्सव’ शुरू। इस अवसर पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी।

Share it
Share it
Share it
Top