मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ई-बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग अपनाएं

मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ई-बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग अपनाएं‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

नई दिल्ली (आईएएनएस)| अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को लोगों को खासतौर पर युवाओं से नकदरहित लेनदेन के लिए ई-बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग अपनाने की अपील की।

प्रधानमंत्री ने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम से पहले एक ट्वीट में कहा, "सभी के लिए खासतौर पर मेरे युवा दोस्तों के लिए ई-बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग और ऐसी ही अन्य प्रौद्योगिकियां अपनाने का समय आ गया है।"

देश को कैशलेस बनाने का संकल्प लें युवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को देश के युवाओं से समाज को कैशलेस (नकदी रहित) बनाने का संकल्प लेने को कहा, ताकि काले धन और भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंका जा सके। मोदी ने अपने रेडियो संबोधन 'मन की बात' में देश के युवाओं से प्रतिदिन 10 परिवारों को नकदी रहित लेनदेन और इलेक्ट्रॉनिक तरीके से भुगतान की प्रक्रिया समझाने का आह्वान करते हुए कहा, "मुझे आपके सहयोग की जरूरत है।"

आज से कैशलेस समाज का हिस्सा बनने की प्रतिज्ञा लें। यही नहीं, बल्कि आपको प्रतिदिन कम से कम 10 परिवारों को इस बारे में शिक्षित भी करना होगा। उन्हें एप डाउनलोड करना सिखाएं, मोबाइल फोन के जरिए पैसा खर्च करना सिखाएं और डिजिटल तरीके से भुगतान करना भी सिखाएं।
नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री (मन की बात’ कार्यक्रम में बोले)

उन्होंने कहा कि उन्हें इस अभियान की अगुवाई के लिए युवाओं के सहयोग की जरूरत है, ताकि आम लोग नकदी रहित लेनदेन सीखने के बाद झंझट मुक्त रह सकें।

मोदी ने कहा, "देश के युवा इसे बहुत जल्दी कर सकते हैं और एक माह के भीतर दुनिया एक आधुनिक भारत की तस्वीर देख सकती। बदलाव के सिपाही बनें और इसे आगे बढ़ाएं। हम काले धन और भ्रष्टाचार से लड़ेंगे। हम जानते हैं कि आप ही बदलाव और क्रांति ला सकते हैं।"

प्रधानमंत्री ने बैंकिंग के लिए मोबाइल का प्रयोग करने की सलाह दी। मोदी ने कहा, "मेरा मोबाइल, मेरा बैंक..मेरा बटुआ।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कठिनाइयों का सामना करने के बावजूद भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए नोटबंदी का समर्थन के लिए लोगों का आभार व्यक्त किया। मोदी ने भ्रष्ट लोगों से कहा, गरीबों के खातों में अवैध धन जमा कर उनके जीवन से ना खेलें। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कदम के खिलाफ लोगों को गुमराह करने के प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन लोग बेहतर भारत के लिए त्याग कर रहे हैं।

जम्मू एवं कश्मीर बोर्ड परीक्षाओं में उपस्थिति सकारात्मक सोच का परिचायक

प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर बोर्ड की परीक्षाओं में 95 प्रतिशत छात्रों की मौजूदगी बेहतर भविष्य के प्रति वहां के युवाओं के संकल्प को दर्शाती है। उन्होंने हाल में जम्मू एवं कश्मीर के ग्राम प्रधानों से मुलाकात की और स्कूलों में आगजनी समेत घाटी में अशांति पर चर्चा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने ग्राम प्रधानों से कश्मीर घाटी में बच्चों के भविष्य बनाने पर ध्यान देने के लिए निवेदन किया।

मोदी ने कहा, "हाल में हुई बोर्ड परीक्षाओं में कश्मीर में 95 प्रतिशत उपस्थिति हुई। यह घाटी में युवाओं की सकारात्मक सोच को दर्शाता है। जम्मू एवं कश्मीर के छात्र शिक्षा के जरिए जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं। मैं छात्रों के उत्साह की प्रशंसा करता हूं। मैं छात्रों के अभिभावकों और शिक्षकों की भी प्रशंसा करता हूं और लोगों को हालात से अवगत कराने के लिए 'ग्राम प्रधानों' को धन्यवाद देता हूं।" मोदी ने कहा, "घाटी में स्कूल जलाने के मुद्दे पर ग्राम प्रधान उतने ही दुखी थे जितने शेष भारत के लोग। उन लोगों ने महसूस किया कि न केवल स्कूल, बल्कि बच्चों के भविष्य भी आग के हवाले हो गए हैं।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नोटबंदी का कदम कारोबारियों के लिए डिजिटल लेनदेन और उनके कारोबार को मजबूत करने की दिशा में बढने का अवसर है।

प्रधानमंत्री ने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में सूरत में हुई एक शादी का जिक्र किया जिसमें बारातियों को सिर्फ चाय पीलाकर विदा किया गया। दुल्हन दक्षा परमार की खूब तारीफ की।

नोटबंदी के बाद सोने की तरफ चमकेगा देश : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि वह आश्वस्त हैं कि केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद भारत सोने की तरह चमकेगा। उन्होंने यह भी कहा कि इससे देश में काला धन पर अंकुश लगेगा। मोदी ने नोटबंदी का समर्थन करते हुए कहा, "हम इस आग से सोने की तरह बाहर निकलेंगे। इस विश्वास का सबसे प्रमुख कारण हमारे लोग हैं।

मोदी ने कहा कि वह इस बात को लेकर सचेत थे कि उनके इस कदम से असुविधा होगी और हम नई समस्याओं का सामना करेंगे। नोटबंदी के बाद राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा, "मैंने कहा था कि स्थिति को सुधरने में 50 दिन लगेंगे। 70 वर्ष पुरानी भ्रष्टाचार और काले धन की समस्या से छुटकारा पाना आसान नहीं है।"

उन्होंने कहा, "कई समस्याओं के साथ आपके सहयोग ने मेरे दिल को छू लिया। आपको दिग्भ्रमित करने के प्रयासों के बावजूद आप डटे रहे।"




Share it
Share it
Share it
Top