विश्व जल दिवस पर राज्यसभा में हामिद अंसारी ने कहा, भावी पीढ़ियों के लिए ताजे पानी का संरक्षण करें

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   22 March 2017 2:11 PM GMT

विश्व जल दिवस पर राज्यसभा में हामिद अंसारी ने कहा, भावी पीढ़ियों के लिए ताजे पानी का संरक्षण करेंसंसद के ऊपरी सदन राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी।

नई दिल्ली (भाषा)। राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी ने आज भावी पीढ़ियों के लिए पानी बचाने का आह्वान करते हुए कहा कि हर किसी को पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के वास्ते ताजा पानी का संरक्षण किया जाना चाहिए।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

यह बात उन्होंने राज्यसभा में विश्व जल दिवस के अवसर पर कही। उच्च सदन की सुबह बैठक शुुरू होेने पर सभापति ने आह्वान किया कि भावी पीढ़ियों के वास्ते जल संरक्षण के लिए ताजे पानी के स्रोतों का संरक्षण किया जाना चाहिए, जिससे कि हर किसी को पर्याप्त पेयजल उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि इस बहुमूल्य प्राकृतिक संसाधन के संरक्षण के लिए पुनर्चक्रण को बढ़ावा दिया जाना चाहिए।

अंसारी ने कहा कि विश्व जल दिवस खासतौर पर ताजा पानी के पहलू को रेखांकित करते हुए हर साल मनाया जाता है। इस साल यह दिवस ‘बेकार पानी' के थीम के प्रति समर्पित है जो बेकार पानी के एक अमूल्य संसाधन होने तथा मानव स्वास्थ्य एवं पारिस्थितिकी में एक सक्षम निवेश के रूप में इसके सुरक्षित प्रबंधन को रेखांकित करेगा।

विश्व जल दिवस हर किसी को यह याद दिलाने के लिए एक खास अवसर है कि कृषि में सिंचाई उद्देश्यों, उद्योगों में शीतलन प्रणालियों और हमारे घरों तथा शहरों में हरित स्थल बनाने के लिए ताजे पानी का इस्तेमाल कम किया जाए तथा बेकार पानी को परिशोधित और पुन: इस्तेमाल किया जाए।
हामिद अंसारी सभापति राज्यसभा

उन्होंने कहा कि विश्व जल दिवस हर किसी को यह याद दिलाने के लिए एक खास अवसर है कि कृषि में सिंचाई उद्देश्यों, उद्योगों में शीतलन प्रणालियों और हमारे घरों तथा शहरों में हरित स्थल बनाने के लिए ताजे पानी का इस्तेमाल कम किया जाए तथा बेकार पानी को परिशोधित और पुन: इस्तेमाल किया जाए।

सभापति ने कहा कि इस बार के जल दिवस का थीम वर्तमान परिदृश्य में हमारे देश के लिए काफी उपयोगी है जहां जलवायु परिवर्तन और बढती नगरीय आबादी भूजल को धीरे-धीरे कम कर रही है तथा तरल कचरे और गैर परिशोधित बेकार पानी का अंधाधुंध प्रवाह ताजा पानी के हमारे संसाधनों को प्रदूषित कर रहा है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top