‘मानुषी’ थीम पर आधारित विश्व पुस्तक मेला 2017 आज से 

‘मानुषी’ थीम पर आधारित विश्व पुस्तक मेला 2017 आज से बहुप्रतीक्षित विश्व पुस्तक मेले का आयोजन 7 से 15 जनवरी के बीच प्रगति मैदान नई दिल्ली में होगा।

नई दिल्ली (भाषा)। नई दिल्ली में विश्व पुस्तक मेला 2017 आज से प्रगति मैदान में शुरू हो जाएगा। यह मेला 15 जनवरी तक चलेगा। विश्व पुस्तक मेला का इस वर्ष का थीम 'मानुषी' होगा, जिसमें महिलाओं द्वारा तथा महिलाओं के ऊपर लिखने वालों पर ध्यान दिया जाएगा।

पाकिस्तान से कोई आवेदन नहीं

न्यास के अध्यक्ष बलदेव भाई शर्मा ने बताया कि मेले का विशेष फोकस न्यास के 60 वर्ष पूरे होने पर होगा और इसकी थीम ‘मानुषी' है जो महिलाओं द्वारा एवं महिलाओं पर लेखन प्रस्तुत करती है। उन्होंने सवाल के जवाब में कहा कि पुस्तक मेले में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान से कोई आवेदन नहीं आया, हालांकि देश का एक प्रतिनिधि मेले में शिरकत करेगा। उन्होंने कहा कि मेले में चीन, मिस्र, फ्रांस, जर्मनी, ईरान, जापान, नेपाल, पोलैंड, रुस, स्पेन, श्रीलंका सहित लगभग 20 देश शिरकत कर रहे हैं।

मेले में नकदरहित भुगतान की पूरी व्यवस्था

शर्मा ने कहा कि आईटीपीओ के सहयोग से आयोजित होने वाले इस मेले में नकदरहित भुगतान की पूरी व्यवस्था की गई है और ई-भुगतान में नेटवर्क किसी तरह की कोई बाधा न डाले इसके लिए आईटीपीओ ने बीएसएनएल के साथ मिलकर विशेष इंतजाम किए हैं। उन्होंने कहा कि आधा दर्जन से ज्यादा एटीएम का इंतजाम किया गया है और कई सचल एटीएम भी होंगे। उन्होंने कहा कि प्रगति मैदान में पुनर्निर्माण का काम चलने की वजह से इस बार जगह की कमी रही और इसलिए इस बार कम प्रकाशकों को जगह मिल सकी। हालांकि आवेदन काफी आए थे।

विश्व पुस्तक मेला का उद्घाटन आज मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री (उच्चतर शिक्षा) डॉ महेंद्र नाथ पांडे करेंगे। इस मौके पर ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित ओडिया लेखिका डॉ प्रतिभा राय तथा भारत में यूरोपीय संघ के प्रतिनिधिमंडल के राजदूत टोमाश कोजलौस्की भी मौजूद रहेंगे।

इस बार मेले का विशेष फोकस न्यास की 60वीं वर्षगांठ है और इसमें ‘यह मात्र सिंहावलोकन' नाम की विशेष प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा, जिसमें राष्ट्रीय पुस्तक न्यास की छह दशकों की पठन-संस्कृति के प्रोन्ययन की यात्रा प्रस्तुत करेगी। मेले की थीम ‘मानुषी' रखी गई है जो महिलाओं द्वारा और उन पर आधारित लेखन को प्रस्तुत करती है।

न्यास के अध्यक्ष बलदेव भाई शर्मा कहा कि थीम से जुडा एक कलेंडर भी हम प्रकाशित कर रहे हैं जिसको 10 जनवरी को मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर जारी करेंगे।

छात्रों का प्रवेश निशुल्क

मेले के टिकट प्रगति मैदान के अलावा 50 मेट्रो स्टेशनों से लिए जा सकते हैं और स्कूल की वर्दी में आने वाले छात्रों का प्रवेश निशुल्क होगा। टिकट दर वयस्कों के लिए 30 रुपए और 12 साल की उम्र से कम के बच्चों के लिए 20 रुपए रखी गई है।उन्होंने कहा कि हमने आईटीपीओ से पुस्तक मेले के लिए प्रवेश शुल्क खत्म करने का अनुरोध किया है।

Share it
Top