कलाकारों को निशाना बनाना सही नहीं : प्रियंका चोपड़ा

कलाकारों को निशाना बनाना सही नहीं : प्रियंका चोपड़ाप्रियंका चोपड़ा (फाइल फोटो)

न्यूयॉर्क (भाषा)। उरी हमले के बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों को पूरी तरह प्रतिबंधित करने की मांग पर अप्रसन्नता जताते हुए अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने कहा कि यह उचित नहीं होगा कि कलाकारों को इसका दंश झेलना पड़े।

पाक कलाकारों को प्रतिबंधित करने की बढ़ी मांग

पिछले महीने हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तानी कलाकारों को प्रतिबंधित करने की मांग बढ़ी है और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने उनको भारत छोड़ने तक की चेतावनी दे दी। वहीं इंडियन मोशन पिक्चर प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (आईएमपीपीए) ने सीमा पार के कलाकारों को प्रतिबंधित करने को लेकर एक प्रस्ताव पारित कर दिया।

हम लोगों के साथ ही ऐसा क्यों होता है?

इस मुद्दे पर जब प्रियंका ने कहा कि यह पेचीदा है क्योंकि हमारे देश में हर बड़े राजनीतिक एजेंडे में सबसे पहले कलाकारों और अभिनेताओं को घसीट लिया जाता है। हम लोगों के साथ ही ऐसा क्यों होता है? अभिनेताओं, फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों के अलावा व्यापारियों, डॉक्टरों और राजनीतिज्ञों एवं अन्य पेशे से जुड़े लोगों के साथ ऐसा क्यों नहीं होता।''

सरकार का जो निर्णय, मैं उसके साथ हूं

प्रियंका ने कहा, ‘‘दूसरी बात यह है कि मैं बहुत अधिक देशभक्त हूं। इसलिए देश को सुरक्षित रखने के लिए हमारी सरकार जो निर्णय करेगी, मैं उसके साथ हूं, लेकिन साथ-ही-साथ मेरा मानना है कि कलाकार या अभिनेता वैसे लोग नहीं है, जिन्होंने किसी का कुछ बिगाड़ा हो।'' पूर्व विश्व सुंदरी 34 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि असली अपराधियों से लड़ने के बजाय लोग अभिनेताओं को क्यों निशाना बना रहे हैं।

Share it
Top