प्रत्याशियों की भाग्यविधाता साबित होगी आधी आबादी 

प्रत्याशियों की भाग्यविधाता साबित होगी आधी आबादी प्रतीकात्म्क तस्वीर (साभार: गूगल इमेज)

उन्नाव। विधानसभा चुनाव में आधी आबादी की भूमिका अहम होगी। दरअसल, जनपद में कुल मतदाताओं में 45 फीसदी हिस्सा महिलाओं का है। यदि मतदान के प्रतिशत में महिलाओं की सहभागिता अधिक रही तो ये प्रत्याशियों के लिए भाग्यविधाता साबित होंगी।

चुनाव कार्यालय से मिले आंकड़ों के मुताबिक, जिले में नौ लाख 74 हजार 727 महिला मतदाता हैं। विधानसभा चुनाव में इस बार महिलाओं की भागीदारी निर्णायक साबित होगी। जिला निर्वाचन कार्यालय के अनुसार जिले में कुल 21 लाख 65 हजार 327 मतदाता हैं।

15 सितम्बर को जिले में कुल महिला मतदाताओं की संख्या नौ लाख 72 हजार 824 थी। इसके बाद से अब तक चले मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम में 42 हजार 193 महिलाओं ने सूची में नाम बढ़वाए। पुनरीक्षण अभियान के दौरान मतदाता सूची से 40 हजार 307 महिला मतदाताओं के नाम हटाए गए।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी बीएन यादव ने बताया, "जिन मतदाताओं के नाम सूची से हटाए गए हैं। उनमें वे मतदाता शामिल हैं जिनकी या तो मृत्यु हो चुकी है या फिर उन्होंने किसी दूसरे के स्थान पर आवेदन कर अपना नाम मतदाता सूची में शामिल करा लिया है। नाम बढ़ने और घटने के बाद जिले में महिला मतदाताओं की संख्या नौ लाख 72 हजार 824 से बढ़कर नौ लाख 74 हजार 727 हो गई है।

हर विधानसभा में महिलाओं की संख्या पर एक नजर

विधानसभा: महिला मतदाता

उन्नाव: 974727

बांगरमऊ: 152476

सफीपुर: 143988

मोहान: 144980

सदर: 177920

भगवंत नगर: 187515

पुरवा: 174848

Share it
Top